Sunday, November 18, 2018 07:17 AM

अंतिम जंग भी हारा भारत

काम नहीं आए लोकेश राहुल-ऋषभ पंत के शतक, इंग्लैंड ने 4-1 से कब्जाई सीरीज

लंदन (इंग्लैंड)  —लोकेश राहुल (149) और ऋषभ पंत (114) की संघर्षपूर्ण पारियों के बावजूद टीम इंडिया को ओवल टेस्ट में मेजबान इंग्लैंड के हाथों 118 रन से शिकस्त मिली है। इंग्लैंड ने पांच मैचों की टेस्ट सीरीज 4-1 से अपने नाम की। एक समय राहुल और ऋषभ पंत ने चमत्कार की उम्मीदें जगाई थीं, लेकिन आदिल राशिद ने इन दोनों के बीच हुई 204 रन की पार्टनरशिप पर ब्रेक लगाते हुए इंग्लैंड की वापसी कराई। भारतीय टीम एक समय चायकाल के बाद पांच विकेट पर 325 रन बनाकर मजबूत स्थिति में थी और उसे मैच जीतने के लिए 139 रन और बनाने थे, जबकि उसके पांच विकेट शेष थे। इसके बाद राहुल और पंत के आउट होते ही बाकी बल्लेबाज भी जल्दी लौट गए और टीम 122 ओवर में 345 रन पर सिमट गई। केएल राहुल ने टेस्ट करियर का पांचवां शतक जमाया। राहुल का यह पिछले दो वर्षों में पहला और कुल पांचवां शतक है। लगातार नौ पारियों में नाकाम रहने के बाद पहली बार उन्होंने 100 से अधिक रन बनाए। उन्होंने उपकप्तान अंजिक्य रहाणे (37) के साथ चौथे विकेट के लिए 118 रन जोड़े। राहुल के बाद ऋषभ पंत ने भी अपने टेस्ट करियर का पहला शतक पूरा किया। राहुल और ऋषभ के बीच छठे विकेट के लिए 204 रन की पार्टनरशिप हुई।

33 सेंचुरी के बदले 33 बोतल बीयर

केनिंग्टन— ओवल में खेला जा रहा सीरीज का 5वां टेस्ट इंग्लिश बल्लेबाज एलिस्टर कुक के करियर का आखिरी टेस्ट था। कुक को हर कोई अपने अंदाज में फयेरवेल दे रहा है। इंग्लिश मीडिया ने अपने अनोखे अंदाज में कुक को फेयरेवल दी। दरअसल, ओवल टेस्ट मैच के चौथे दिन एलिस्टर कुक को इंग्लिश मीडिया ने बीयर की 33 बोतलें गिफ्ट की हैं। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान कुक ने अपने आखिरी टेस्ट मैच में 33वीं सेंचुरी लगाई है। उनकी इसी उपलब्धि के सम्मान में ब्रिटिश मीडिया के सदस्यों ने कुक को 33 बीयर की बोतलें दी हैं।

छह पारियों में 76 बाई

लंदन— ऋषभ पंत की इंग्लैंड में विकेटकीपिंग अच्छी नहीं रही और पूर्व भारतीय विकेटकीपरों का मानना है कि उन्हें टेस्ट स्तर का भरोसेमंद विकेटकीपर बनने के लिए अभी काफी सुधार करने की जरूरत है। इस 20 साल के विकेटकीपर ने इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज की छह पारियों में 76 बाई रन दिए। हालांकि इनमें से 20-25 रन उनकी गलती के कारण नहीं गए। पूर्व भारतीय विकेटकीपर नयन मोंगिया, किरण मोरे और दीप दासगुप्ता का मानना है कि पंत को अभी काफी सुधार करने की जरूरत है, लेकिन इसके साथ ही उनका मानना है कि चयनकर्ताओं का युवा विकेटकीपरों को लेकर स्पष्ट नीति होनी चाहिए, क्योंकि ऋद्धिमान साहा का अभी अगले तीन या चार महीने तक खेलना संभव नहीं है। मोंगिया ने कहा, पंत अभी नया है और मुझे लगता है कि आईपीएल फॉर्म के आधार पर खिलाड़ी का चयन करना गलत नीति है। विकेटकीपिंग के उनके बेसिक्स सही नहीं हैं। अगर वह इंग्लैंड में स्पिनरों के सामने विकेटकीपिंग नहीं कर पा रहा है तो उसे उपमहाद्वीप में पांचवें दिन काफी समस्या होगी।

कई बार किस्मत से मिलते हैं विकेट

लंदन— भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने कहा कि इंग्लैंड के बल्लेबाजों को परेशान करने के बावजूद विकेट नहीं निकाल पाना काफी निराशाजनक रहा। शमी ने कहा कि कई बार विकेट भी किस्मत से मिलते हैं। ओवल मैदान पर खेले जा रहे पांचवें और अंतिम टेस्ट के चौथे दिन के खेल की समाप्ति के बाद शमी ने कहा कि गेंदबाजों ने काफी आक्रामकता के साथ गेंदबाजी की थी, लेकिन उन्हें विकेट नहीं मिल सके।

ओवरथ्रो के लिए बुमराह को थैंक्स

लंदन— संन्यास लेने की घोषणा कर चुके इंग्लैंड के बल्लेबाज एलिस्टर कुक ने कहा है कि उन्हें बुमराह को धन्यवाद कहना है, क्योंकि इस तेज गेंदबाज के ओवरथ्रो के कारण उन्होंने करियर की अंतिम टेस्ट पारी में शतक पूरा किया। कुक जब 96 रन बनाकर खेल रहे थे, तब उन्होंने रविंद्र जडेजा की गेंद को एक रन के लिए खेला, लेकिन बुमराह ने स्टंप पर तेज थ्रो की और इसके बाद ओवरथ्रो से बल्लेबाज को पांच रन मिले।