Tuesday, February 18, 2020 07:02 PM

अकादमिक ब्लॉक का निर्माण कार्य शुरू

मेडिकल कालेज नाहन में पूजा-अर्चना के साथ चार वर्ष बाद शुरू हुआ काम, दो साल के अंदर पूरा करना होगा काम

नाहन -जिला सिरमौर के महान स्थित डा. वाईएस परमार मेडिकल कालेज एवं अस्पताल का निर्माण कार्य आखिरकार करीब चार वर्ष बाद विधिवत रूप से शुरू हो गया। गुरुवार को मेडिकल कालेज नाहन के  अकादमिक भवन का निर्माण कार्य पूजा-अर्चना के साथ  शुरू किया गया । इस अवसर पर मेडिकल कालेज नहान के संयुक्त निदेशक नरेंद्र कुमार आहुलवालिया के साथ डा. यशवंत सिंह परमार मेडिकल कालेज नाहन के कार्यवाहक प्रधानाचार्य डा. श्याम कौशिक ने विधिवत पूजा-अर्चना के साथ निर्माण कार्य आरंभ करवाया। डा.वाईएस परमार मेडिकल कालेज नाहन के कार्यकारी प्रधानाचार्य डा. श्याम कौशिक ने जानकारी देते हुए बताया कि मेडिकल कालेज के अकादमिक ब्लॉक  तथा हास्पिटल ब्लॉक के निर्माण कार्य के लिए 260.70 करोड़ रुपए की राशि व्यय कि जा रही है और यह कार्य कंपनी को दो वर्ष के भीतर पूर्ण करना है। उन्होंने बताया कि आज से मेडिकल कालेज के अकादमिक ब्लॉक का निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है जिसके लिए   उन्होंने समस्त विभागों का मेडिकल कालेज के सहयोग के लिए आभार प्रकट किया एवं नाहन के लोगों से भविष्य में सहयोग की अपील की। उन्होंने बताया कि अब कार्य तीव्र गति से चलेगा और  भविष्य में नाहन में एक बेहतर सुविधा वाला हास्पिटल ब्लॉक एवं मेडिकल कालेज के अकादमिक ब्लॉक का निर्मार्ण होगा, जो मरीजों को बेहतर स्वास्थ सुविधाएं उपलब्ध करवाएगा एवं उच्च श्रेणी के डाक्टर प्रशिक्षण उपरांत यहां से उत्तीर्ण होकर जाएंगे। इस अवसर पर डा. यशवंत सिंह परमार गवर्नमेंट मेडिकल कालेज एवं हास्पिटल नाहन संयुक्त निदेशक नरंेद्र कुमार आहलूवालिया ने कहा कि मेडिकल कालेज केनिर्माण कार्य के आरंभ को लेकर बहुत सारी औपचारिकताएं पूरीहोनी थीं ।उन्होंने कहा कि अधिकांश औपचारिकताओं को पूरा कर लिया गया है जिसके बाद गुरुवार को विधि विधान के साथ मेडिकल कालेज के अकादमिक भवन का निर्माण कार्य आरंभ कर दिया गया है उन्होंने कहा कि संबंधित कंपनी को मेडिकल कालेज के भवन के निर्माण कार्य को पूरा करने का लक्ष्य दो वर्ष के भीतर पूरा करने का दिया गया है । उन्होंने कहा कि जो औपचारिकताएं रह गई थी उन्हें भी पूरा कर लिया गया है। इस अवसर पर सहायक नियंत्रक वित्त एवं लेखा सुनील अत्री, कालेज के विभिन्न विभागों के  नर्सिंग विभागाध्यक्ष, नर्सिंग स्टाफ एवं समस्त कालेज के अन्य कर्मचारियों के अलावा शापूरजी पालोनजी कंपनी के अधिकारी व कर्मचारी भी उपस्थित थे।

क्या कहते हैं संयुक्त निदेशक नरेंद्र कुमार आहलूवालिया

संयुक्त निदेशक नरेंद्र कुमार आहलूवालिया ने बताया कि राजकीय महाविद्यालय नाहन के पुराने साइंस ब्लॉक को भी मेडिकल कालेज के अधीन शीघ्र इस्तेमाल किया जाएगा उन्होंने कहा कि संबंधित भवन के मरम्मत का कार्य लोक निर्माण विभाग को दिया गया है इसकी औपचारिकताएं लगभग पूरी हो चुकी है गौर हो कि मेडिकल कालेज नाहन वर्ष 2016 में आरंभ हो चुका है। वर्तमान में यहां पर करीब 400 प्रशिक्षु चिकित्सक एमबीबीएस का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। फिलहाल मेडिकल कालेज गत चार वर्षों से नाहन के पुराने रीजनल अस्पताल के भवन में संचालित किया जा रहा है जिसमें कुछ आवश्यक परिवर्तन किए गए हैं । परंतु भवन की कमी के कारण मेडिकल कालेज प्रशासन को मुश्किल का सामना करना पड़ रहा हैं । ऐसे में मेडिकल कालेज का निर्माण कर रही देश की जानी मानी भवन निर्माण कंपनी शापूरजी पालोनजी ने मेडिकल कालेज के निर्माण की मुहिम शुरू कर दी है ।