Friday, October 18, 2019 12:57 PM

अपने पैरों पर खड़े होने को 34 के आवेदन

बिलासपुर -मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के तहत जिला बिलासपुर में वर्ष 2019-20 के लिए तृतीय चरण की बैठक में 34 आवेदन पत्र ऑनलाइन प्राप्त हुए हैं। जिला उद्योग केंद्र बिलासपुर की महाप्रबंधक प्रोमिला शर्मा ने बताया कि सहायक आयुक्त अवनीश शर्मा की अध्यक्षता में जिला स्तरीय कमेटी की बैठक में सभी 34 प्रकरणों का अनुमोदन किया गया। 34 ऋण प्रकरणों में छह करोड़ 44 लाख 27 हजार रुपए निवेश व 133 लोगों को रोजगार मिलना प्रस्तावित है। इससे पूर्व की दो बैठकों में 183 ऋण प्रकरण जिला स्तरीय समिति द्वारा अनुमोदित करके बैंकों को भेजे जा चुके हैं, जिनमें 38 करोड़ 28 लाख 48 हजार रुपए निवेश व 905 लोगों को रोजगार मिलना प्रस्तावित हुआ है। उन्होंने बताया कि उद्योग विभाग जिला उद्योग केंद्र के माध्यम से इन 217 आवेदनों के बैंकों द्वारा ऋण स्वीकृत व वितरित होने पर दस करोड़ 24 लाख 89 हजार रुपए का अनुदान प्रदान किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत सभी प्रकार के औद्योगिक कार्यकलाप, सर्विस गतिविधियां व व्यापार से संबंधित, अपना रोजगार चलाने के इच्छुक/योग्य हिमाचली युवा जिनकी आयु 18 से 45 वर्ष के मध्य हो, उनको संबंधित बैकों के माध्यम से 60 लाख रुपए तक का ऋण व वितीय सहायता उपलब्ध करवाई जाती है तथा 40 लाख रुपए तक की प्लांट व मशीनरी पर किए गए निवेश का 30 प्रतिशत महिलाओं व 25 प्रतिशत पुरुषों के लिए अनुदान तथा पांच प्रतिशत ब्याज अनुदान तीन वर्षों के लिए उद्योग विभाग प्रदान करता है। उन्होंने इच्छुक उद्यमी मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना का लाभ उठाने के लिए उद्योग विभाग की वेबसाइट पर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या निजी रूप से महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र बिलासपुर के कार्यालय संपर्क कर सकते हैं। बैठक में हंसराज सहायक नियंत्रक (वित्त एवं लेखा), प्रधानाचार्य आईटीआई अजेश कुमार, पीओ डीआरडीए संजीत सिंह, प्रबंधक एसबीआई बैंक शमिंद्र गुप्ता व जिला रोजगार अधिकारी हंसराज गुप्ता के अतिरिक्त प्रबंधक मनोज ने भाग लिया।