Friday, December 13, 2019 07:22 PM

अफसरों को ऑफिस के लिए मिलें इलेक्ट्रिक बसें

 प्रदूषण के मसले पर विधायक विक्रमादित्य ने दिया सुझाव

शिमला -प्रदेश कांग्रेस के महासचिव व विधायक शिमला ग्रामीण विक्रमादित्य सिंह ने एक ब्यान में कहा है कि जिस तरह से दिल्ली में प्रदूषण से हाल खराब है उसी तरह से हिमाचल प्रदेश में बढ़ रहे उद्योग और व्हीकुलर ट्रैफिक के कारण इसी तरह के हालात भविष्य में यहां पर होना निश्चित है। शिमला शहर में काफी संख्या में पर्यटक भ्रमण के लिए आते हैं और साथ ही प्रदेश की राजधानी होने के कारण यहां पर प्रशासनिक इकाइयां जैसे सचिवालय, न्यायालय, सभी विभागों के निदेशालय, जिला प्रशासन में काम करने वालों व बाहरी लोगों की आवाजाही भी शहर में रहती है। उन्होंने शिमला शहरवासियों से निवेदन किया है कि हम एक ऑनलाइन सिग्नेचर कैम्पेन करने का प्रस्ताव करने जा रहे हैं, जिसका मुख्य उद्देश्य शुरूआती तौर पर राज्यपाल, मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव को छोड़कर सभी प्रशासनिक सचिवों और विभागाध्यक्षों और दूसरे प्रशासनिक अधिकारियों जिनको सरकारी गाडि़यां सरकार ने अलॉट कर रखी हैं और जिनके निवास कुसुम्पटी, नाभा या शहर के अन्य क्षेत्रों में सरकार द्वारा आवंटित किए गए हैं, उनको निवास से दफ्तर आने-जाने के लिए इलेक्ट्रिक बस सुविधा की शुुरूआत की जाए। अगर किसी अधिकारी को फील्ड वीजिट पर जाना हो तो उसमेें उसे छूट दी जा सकती है।