Tuesday, June 02, 2020 12:00 PM

अब टोकन के साथ भेजी जाएंगी गाडि़यां

बरमाणा में सीमेंट ढुलाई के लिए इंतजार में सड़क पर नहीं खड़े होंगे ट्रक

बरमाणा-सीमेंट  नगरी  बरमाणा में ट्रकों की वजह से हर रोज लगने वाला जाम आम नहीं रहेगा। इसका समाधान कर दिया गया है। जो भी गाड़ी एसीसी फैक्टरी में सीमेंट लोडिंग के लिए जाएगी उसे टोकन देकर भेजा जाएगा। पुलिस प्रशासन ने जाम को रोकने के लिए डैहर रोड के पास ऐसा नाका लगा दिया है ताकि जाम का झंझट ही न रहे। नाके पर तीन  शिफ्टों में कर्मचारी ड्यूटी करेंगे। एसीसी फैक्टरी में कोई भी ट्रक बिना टोकन के नहीं जा पायेगा। अंदर सीमेंट ढुलाई के लिए जाने वाली हर गाड़ी को नाके पर टोकन दिया जाएगा, जिसे एसीसी गेट पर तैनात कर्मचारी के पास एक डिब्बे में डाल दिया जाएगा और बाद में इन टोकन को जला देंगें ताकि कोरोना वायरस का असर भी न पड़े। इस नाके पर पुलिस अपनी टीम के साथ तीन शिफ्टों में कम करेगी। रात की शिफ्ट में एसीसी के कर्मचारी गाडि़यों की डिमांड के हिसाब से गाडि़यों को अंदर सीमेंट ढुलाई के लिए टोकन के साथ भेजेंगे। शुक्रवार से ही बरमाणा पुलिस ने बीडीटीएस प्रबंधन व एसीसी से मिलकर एक ऐसी योजना तैयार की जो आने वाले समय में पर्यटकों और अन्य लोगों को जाम जैसी समस्या से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित होगी। इस योजना के तहत अब माल ढुलाई के लिए ट्रक सड़क पर खड़े नहीं होंगे, सिर्फ उतनी ही मात्रा में ट्रकों को अंदर भेजा जाएगा जिनका नंबर आएगा। इसके लिए बाकायदा बरमाणा पुलिस द्वारा एक टोकन की व्यवस्था की गई है। सिग्नल होने के बाद ट्रक पार्किंग में खड़े किए जाएंगे इसके बाद जैसे ही एक्स सर्विस मन व बीडीटीएस द्वारा डी-लिस्ट में ट्रकों की पहली खेप माल ढुलाई कर बाहर निकलेगी उसके साथ ही पार्किंग ग्राउंड से ट्रकों को उनकी बारी के हिसाब से आगे भेजा जाएगा। इसके लिए  बरमाणा पुलिस द्वारा बाकायदा टोकन के माध्यम से उन्हें आगे भेजा जाएगा। गाडि़यों की डिमांड एसीसी प्रबंधन द्वारा दी जाएगी जैसे ही डिमांड की सूचना प्रबंधन के पास पहुंचने के बाद डायरेक्शन के माध्यम से गाडि़यों को पार्किंग से निकलने के लिए गाड़ी नंबर सहित सूचित किया जाएगा। अमरजीत संस्था के अध्यक्ष व स्थानीय लोगों ने इस योजना को लेकर बताया कि यह एक कारगर कदम सिद्ध होगा इससे पर्यटकों और आने जाने वाले लोगों को भी हर रोज लगने वाली जाम की समस्या से  छुटकारा मिलेगा।