Saturday, July 04, 2020 12:05 PM

अब मीटर रीडिंग पर आएंगे बिल

बिलासपुर-हिमाचल प्रदेश स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड लिमिटेड ने स्पष्ट किया है कि कोरोना संक्रमण से बचने के उपायों के चलते मीटर रीडरों को फील्ड में न भेज कर वास्तविक मीटर रीडिंग नहीं ली गई थी और अप्रैल माह का बिल पिछले वर्ष के इसी माह के बिल के आधार पर बनाए गए थे। ऐसे में अब जो भी बिल आएंगे वह प्रॉपर मीटर रीडिंग के आधार पर आएंगे। बिजली बोर्ड के संयुक्त निदेशक अनुराग पराशर ने बताया कि अप्रैल माह के बिजली बिलों में दर्शाई गई इस औसत बिजली मीटर रीडिंग को एक चरणबद्ध तरीके से मई माह की वास्तविक मीटर रीडिंग के साथ समायोजित किया जा रहा है जिसकी प्रक्रिया जारी है। अनुराग पराशर ने बताया कि हिमाचल प्रदेश स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड लिमिटेड प्रदेश के हर बिजली  उपभोक्ता को आश्वस्त करता है कि हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा विद्युत बिलों में दिए जा रहे उपदान सहित वास्तविक रीडिंग के आधार पर विद्युत बिल देय होगा जो कि आगामी विद्युत बिलों में प्रदर्शित भी हो जाएगा। बोर्ड ने इस बारे में प्रदेश के किसी भी उपभोक्ता को कोई भी आपत्ति होने पर बोर्ड के संबंधित विद्युत उपमंडल में संपर्क करने की सलाह दी है। उन्होंने बताया कि उपभोक्ता की इस संबंध में किसी भी समस्या का तुरंत निवारण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड को किसी भी बिजली उपभोक्ता की इस संबंध में शिकायत का तुरंत निवारण करने के निर्देश जारी किए हैं। बोर्ड ने इस संबंध में जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 1912 या 18001808060 पर संपर्क करने की सलाह दी है।