Saturday, August 15, 2020 01:13 PM

अब सिर्फ बद्दी-दभोटा से होगा आना-जाना

कर्फ्यू के चलते बीबीएन के सभी एंट्री प्वाइंट्स सील; जगह-जगह जवान तैनात, हरियाणा पंजाब-चंडीगढ़ से अपडाउन के सभी परमिट रद्द, हिमाचल से भी बाहर नहीं जा सकेंगे लोग

बीबीएन - कोरोना वॉयरस के कहर को रोकने के लगाए गए कर्फ्यू के बीच पुलिस जिला प्रशासन ने अब सीमावर्ती क्षेत्रों सहित बीबीएन के तमाम एंट्री प्वाइंट्स पर निगरानी बढ़ा दी है। बता दें कि पंजाब, हरियाणा से सटे बीबीएन क्षेत्र के मुख्य मार्ग के अलावा एक दर्जन रास्तों से आवाजाही रहती है, जिन्हें एहतियात के तौर पूर्णतयः बंद कर दिया गया है। अब सिर्फ दो बैरियरों बद्दी व दभोटा से ही आवागमन रखा गया है। कर्फ्यू और लॉकडाउन के छठे दिन बैरियर्ज पर बाकायदा आवश्यक सेवाओं से जुड़े हर वाहन व व्यक्ति को पुलिस ने खंगाला। इस दौरान बद्दी के रास्ते हिमाचल में दाखिल होने की कोशिश कर रहे सैकड़ों लोगों को पुलिस ने रोका और वापस लौटा दिया। बताया जा रहा है कि शनिवार से पूर्व में उपमंडल प्रशासन द्वारा पड़ोसी राज्यों में आवागमन के लिए जारी किए पास भी अमान्य हो गए है।  गौरतलब है कि रविवार को सरकार ने निर्णय लिया था कि अब जिलों से भी लोग एक-दूसरे के क्षेत्र में नहीं जा सकेंगे। इस कारण से बद्दी बैरियर से दिल्ली की ओर पैदल जाने वाले लोगों को भी उन्हीं के ठिकानों पर रोक दिया गया।

बैरियर पर लगी लंबी कतारें

बद्दी बैरियर पर सोमवार सुबह  फार्मा कंपनियों के मालिक व उनके सहयोगी, बैंक कर्मचारी तथा डाक्टरों की हिमाचल में एंट्री के लिए लंबी कतारें लग गईं। इसके बाद पुलिस ने साफ कर दिया कि अब कोई भी अपडाउन की परमिशन नहीं चलेगी। इसलिए उनको अगले 15 दिनों तक हिमाचल को ही अपना घर बनाना होगा। बैंक कर्मियों के साथ बहुत से डाक्टरों का यही कहना था कि हम ट्राइसिटी से आते हैं। हम बीबीएन में नहीं रह सकते।

पुलिस-स्वास्थ्य कर्मी परेशान

सोमवार को दूध-दही, आटा व राशन सामग्री, गैस व अन्य आवश्यक सेवा अधिनियम के तहत जो चीजें शामिल थीं, उनका हिमाचल में आवागमन होता रहा। ज्यादा भीड़ लग जाने से स्वास्थ्य विभाग ने बाकायदा हर गाड़ी के चालक का टेंपरेचर चैक किया व पुलिस ने वाहन नंबर दर्ज किया। तब जाकर वाहन बद्दी में आ सके। पुलिस कर्मिर्यों को राज्य दवा उपनियंत्रक मुनीष कपूर द्वारा बाकायदा हैंड सेनेटाइजर मुहैया करवाए गए।