Tuesday, June 02, 2020 11:56 AM

अवैध कटान पर वसूला 20 हजार जुर्माना

महारल में वन विभाग ने की कार्रवाई, बिना अनुमति काट डाले थे 40 पेड़

बड़सर-पिछले दो महीनों से जारी लॉकडाउन का फायदा उठाते हुए कई तरह के गैर कानूनी कार्य लोगों द्वारा चुपचाप अंजाम दिए जाते रहे हैं। उपमंडल बड़सर के कई क्षेत्रों में चोरी-छिपे वन व निजी भूमि से कई पेड़ साफ कर दिए गए हैं। ऐसे ही एक मामले में 40 पेड़ काटने पर वन विभाग द्वारा 20000 रुपए का जुर्माना वसूला गया है। विभागीय सूत्रों से मिली जानकारी  अनुसार उपमंडल बड़सर के महारल में एक व्यक्ति द्वारा 40 के लगभग पेड़ों पर आरा चलाकर साफ कर दिया गया है, जबकि नियमों के मुताबिक अपनी निजी भूमि से भी  पांच से ज्यादा पेड़ नहीं काटे जा सकते हैं, लेकिन तमाम नियमों को दरकिनार कर  पेड़ों को काटना वन विभाग की नजर में जब आया, तो आरोपी के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई। विभागीय अधिकारियों द्वारा किए गए आकलन के मुताबिक मौके से 40 के लगभग छोटे-बड़े पेड़ काटे गए हैं, लेकिन हैरानी वाली बात यह है कि प्राथमिक जांच में वन विभाग कर्मचारियों द्वारा पहले केवल दो दर्जन पेड़ कटने की बात कही गई थी। हैरानी इस बात की भी है कि वन विभाग के कर्मचारी अपने-अपने इलाकों में गश्त पर रहते हैं, लेकिन फिर भी पेट्रोल आरों की तेज आवाज उनके कानों तक नहीं पहुंच पाती है। इस संदर्भ में आरओ बिझड़ी रतनी देवी का कहना है कि महारल में निजी भूमि से 40 पेड़ काटे गए हैं। संबंधित व्यक्ति को इस संदर्भ में 20000 रुपए का जुर्माना किया गया था, जिसे उसने चुका दिया है।