Tuesday, November 19, 2019 04:38 AM

असहाय बुजुर्गों को मिलेगा ठिकाना

कुठेड़ा में वेलफेयर सोसायटी दोबारा चलाएगी वृद्धाश्रम

हमीरपुर - अपनों द्वारा तिरस्कृत बुजुर्गों को हमीरपुर में एक बार फिर ठिकाना मिलेगा। वर्षों से बंद पड़े वृद्ध आश्रम को हीरानगर-कृष्णानगर वेलफेयर सोसायटी ने फिर से चलाने का निर्णय लिया है। आगामी सप्ताह से यह आश्रम तिरस्कृत व असहाय बुजुर्गों के लिए खोल दिया जाएगा। इनके लिए यहां खाने-पीने व रहने की सुविधा निःशुल्क होगी। यहां तक कि मेडिकल सुविधा भी उनके लिए मुफ्त रहेगी। इनकी देखरेख के लिए सोसायटी यहां कर्मचारी तैनात करेगी, जो हर समय इनकी सहायता करने के लिए तैनात रहेंगे। पेंशनर व्यक्ति भी यहां आकर रह सकता है, लेकिन उसे पेंशन का कुछ अंश इस आश्रम के लिए देना होगा। सोसायटी उस पेंशनर को लेगी जो तिरस्कृत है या फिर असहाय है। ऐसे में इस पेंशनर की देखरेख वेलफेयर सोसायटी के माध्यम से ही होगी। यह वृद्ध आश्रम गांव मुठान लुखारियां डाकघर कुठेड़ा तहसील व जिला हमीरपुर में स्थित है। वृद्धाश्रम के लिए पात्र बुजुर्ग वेलफयर सोसायटी के संचालकों से बातचीत कर सकते हैं। बता दें कि यह वृद्धाश्रम कुछ वर्ष पहले बंद हो गया था। यहां रह रहे बुजुर्गों का देहांत हो गया। इसके बाद इसे कुछ समय के लिए बंद कर दिया गया। अब वेलफेयर सोसायटी ने बुजुर्गों के हित में इस आश्रम को फिर से चलाने का निर्णय लिया है। प्रदेश से तिरस्कृत व असहाय बुजुर्ग पुरुष व महिलाएं सोसायटी प्रबंधन से बात कर सकते हैं। बातचीत करने के उपरांत प्रबंधन अपने स्तर पर जांच करेगा। जांच प्रक्रिया पूरी करने के उपरांत ही आश्रम में रहने की अनुमति दी जाएगी। यह आश्रम करीब चार कनाल भूमि में बना हुआ है। बेहतर माहौल के बीच वृद्धों की देखभाल की जाएगी। इस बेडेड इस वृद्धाश्रम में यहां रह रहे लोगों के लिए रेडियो-टीवी सहित फोन की भी सुविधा मिलेगी। किसी भी आपत स्थिति में फोन के माध्यम से प्रबंधन को सूचित किया जा सकेगा। हीरानगर-कृष्णानगर वेलफेयर सोसायटी के प्रधान मिलाप सिंह ने बताया कि आगामी सप्ताह से इस आश्रम को संचालित किया जा रहा है। यहां रहने वाले बुजुर्गों की सुरक्षा के लिए सिक्योरिटी गार्ड भी तैनात किया जाएगा। पात्र वृद्ध व्यक्ति मोबाइल नंबर 97360-95677, 94180-59062, 94180-05739 पर संपर्क कर सकते हैं। इन नंबरों पर सारी जानकारी उपलब्ध रहेगी।