Wednesday, July 17, 2019 07:31 PM

आईटीआई पिडीलाइट-वर्धमान में सीखा आपदा से निपटना

नालागढ़—एसडीएम प्रशांत देष्टा ने कहा कि भूकंप जैसी आपदा को रोकना असंभव है और इसका पूर्वानुमान भी लगाना मुश्किल है, लेकिन इससे होने वाले जानमाल के नुकसान को मानवीय प्रयत्नों द्वारा कम किया जा सकता है। यह बात उन्होंने नालागढ़ स्थित आईटीआई में आपदा प्रबंधन को लेकर आयोजित मॉकड्रिल कार्यक्रम में कही। नालागढ़ स्थित आईटीआई, पीडीलाइट व वर्धमान में यह अभ्यास करवाए गए। इस दौरान बीडीओ नालागढ़ राजकुमार, आईटीआई के प्रधानाचार्य जोगिंद्र शर्मा सहित दमकल कर्मियों के अलावा विभिन्न विभागों के लोग उपस्थित रहे। एसडीएम प्रशांत देष्टा ने कहा कि ऐसी आपदा में धैर्य व साहस नहीं खोना चाहिए और बिना घबराए इस आपदा से निपटना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे अभ्यास आपदा बचाव की दिशा में महत्त्वपूर्ण सिद्ध होते हंै। उन्होंने विभिन्न विभागों को निर्देश दिए कि अपने कार्यालयों में आपदा उपकरण तैयार स्थिति में रखें तथा कार्यालयों की आपदा योजना के अनुरूप तैयारी रखें। उन्होंने लोगों को भूकंप सहित अन्य आपदाओं से बचाव के उपाय भी बताए। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि आपदाओं के समय जागरूक रहें। उधर, नालागढ़ कालेज में भी आपदा प्रबंधन पर अभ्यास वर्ग आयोजित किए गए और मॉकड्रिल के माध्यम से जानकारी प्रदान की गई, जिसमें घायलों को किस प्रकार बाहर सुरक्षित निकालना है और उसे किसी प्रकार चिकित्सीय सहायता देनी और अस्पताल पहंुचाना, भूकंप के कारण आग लगना, बिजली काटना व अन्य प्रकार की सावधानी बरतने के लिए प्रदर्शन विधि से अभ्यास करवाया गया।