Thursday, July 18, 2019 08:03 AM

आज ओपीडी खुलेगी पर इलाज नहीं होगा

कांगड़ा—जिला कांगड़ा के अस्पतालांे में बुधवार सुबह मरीजांे को अपने उपचार के लिए अस्पताल खुलने के बाद भी दो घंटे का इतंजार करना पड़ेगा। प्रदेश के मंडी जिला में महिला चिकित्सक पर हुए हमले के विरोध में चिकित्सकांे द्वारा दो घंटे की पेन डाउन स्ट्राइक की जाएगी। सुबह साढ़े नौ से लेकर साढ़े 11 बजे तक चिकित्सक ओपीडी में नहीं बैठेंगे। इस दौरान अस्पताल मंे केवल आपातकालीन स्थिति में आने वाले मरीज को ही एमर्जेंसी वार्ड में स्वास्थ्य सुविधाएं मिलेंगी। मंडी मंे महिला चिकित्सक पर हमला करने वाले आरोपियांे की गिरफ्तारी तक चिकित्सकांे की पेन डाउन स्ट्राइक जारी रहेगी।  हिमाचल प्रदेश मेडिकल आफिसर्ज एसोसिएशन कांगड़ा के प्रधान डा. सन्नी धीमान, महासचिव डा. मनोज ठाकुर तथा प्रेस सचिव डा. हर्षवर्धन सिंह ने कहा कि चिकित्सकांे के साथ हो रही मारपीट के विरोध में एसोसिएशन द्वारा जिला कांगड़ा में भी दो घंटे की पेन डाउन स्ट्राइक की जाएगी। मंडी का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी बैजनाथ तथा खैरा में चिकित्सकांे के साथ हुई मारपीट मामले में कोई कड़ा एक्शन आरोपियांे के खिलाफ नहीं लिया गया है। उन्हांेने कहा कि पश्चिम बंगाल में डाक्टर्स के साथ मारपीट के मामले के बाद पूरे देश में चिकित्सकांे द्वारा कड़े कानून बनाए जाने के लिए मांग की जा रही है। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला मंे भी महिला चिकित्सक पर हमला करने वाले आरोपियांे के खिलाफ चिकित्सा अधिकारी संघ द्वारा कड़ी कार्रवाई करने की मांग को लेकर बुधवार से दो घंटे की पेन डाउन स्ट्राइक करने के साथ ही काले बिल्ले लगाकर अपना विरोध करंेगे। एसोसिएशन ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि चिकित्सकांे के साथ मारपीट करने वाले आरोपियांे के खिलाफ सख्त कार्रवाई के कानून बनाया जाए।

चिकित्सा संघ की हड़ताल को समर्थन

डा. राजंेद्र प्रसाद मेडिकल कालेज एवं अस्पताल टांडा की रेजिडंेट डाक्टर्स एसोसिएशन ने भी प्रदेश चिकित्सा संघ की हड़ताल को अपना समर्थन दिया है। टांडा आरडीए के अध्यक्ष डा. अमित राणा ने कहा कि सभी चिकित्सक बुधवार को काले बिल्ले लगाकर अपनी ड्यूटी दंेगे। हालांकि पेन डाउन स्ट्राइक करने को लेकर आरडीए बुधवार को जरनल हाउस का आयोजन कर निर्णय लेगी।