Sunday, September 22, 2019 07:12 AM

आज मनाली में साइन होंगे 1200 करोड़ के एमओयू

मनु की नगरी में मिनी कानक्लेव का आयोजन, पहुंचेंगे नामी उद्योगपति

मनाली - मनाली में बुधवार को देश भर से करीब 200 उद्यमियों के साथ प्रदेश सरकार 1200 करोड़ के एमओयू साइन करेगी। यहां आयोजित होने वाले एक दिवसीय मिनी कानक्लेव की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। बुधवार दोपहर जहां मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर अपनी टीम के साथ मनाली पहुंचेंगे, वहीं इस दौरान निवेशकों के साथ विभिन्न विषयों पर विशेष चर्चा भी की होगी। मंगलवार को स्थानीय विधायक एवं वन मंत्री गोविंद ठाकुर ने कानक्लेव की तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि कानक्लेव में सीएम विशेष तौर पर शिरकत करेंगे। बुधवार को उद्यमियों के साथ लगभग 1200 करोड़ के एमओयू साइन किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि औद्योगिक निवेश से प्रदेश उन्नति की राह पकड़ेगा। ऐसे में मिनी कानक्लेव काफी महत्त्वपूर्ण है और इसका फायदा यहां के पर्यटन करोबारियों को भी होगा। प्रदेश में अभी तक लगभग 30 हजार करोड़ का निवेश हो चुका है, जबकि सरकार ने 85 हजार करोड़ के निवेश का लक्ष्य रखा है। प्रदेश के 65 हजार लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे।

पर्यटन करोबारियों को उम्मीद

पर्यटन व्यवसाय के सबसे बड़े केंद्र मनाली को इस साल पर्यटन करोबार में बड़ा झटका लगा है। अन्य सालों की तुलना में इस साल पर्यटन कारोबार आधे से भी कम हुआ है। ऐसे में मंदी की मार झेल रहे पर्यटन कारोबारियों ने प्रदेश सरकार से आग्रह किया था कि व्यवसायियों की मदद के लिए सरकार विशेष नीति बनाए, जिसका संज्ञान लेते हुए सीएम ने पहल की और मनाली में इन्वेस्टर मीट को हरी झंडी दी है। अब मिनी कानक्लेव से पर्यटन करोबारियों को भी उम्मीद बंधी है।

मुख्यमंत्री के साथ ये रहेंगे मौजूद

मुख्यमंत्री बुधवार दोपहर सवा एक बजे मनाली पहुंचेंगे और कानक्लेव में बतौर मुख्यातिथि संबोधन देंगे। उनके साथ मंत्री विपिन परमार, उद्योग मंत्री विक्रम सिंह ठाकुर तथा वन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर भी कानक्लेव को संबोधित करेंगे। मुख्य सचिव डा. श्रीकांत बाल्दी भी कनक्लेव में भाग लेंगे, जबकि अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग मनोज कुमार, पर्यटन विभाग के निदेशक यूनस और आयुर्वेद विभाग के निदेशक डीके रतन अपने-अपने विभागों से संबंधित निवेश की संभावनाओं पर प्रस्तुतियां देंगे।