Tuesday, March 31, 2020 08:10 PM

आज से चक दे इंडिया…

टी-20 महिला वर्ल्डकप के उद्घाटन मैच में आस्टे्रलिया से भिड़ेगा भारत

सिडनी - विस्फोटक बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर की कप्तानी में भारतीय महिला टीम शुक्रवार से शुरू हो रहे आईसीसी महिला टी-20 विश्वकप के पहले मैच में आस्ट्रेलिया के खिलाफ ग्रुप-ए के मुकाबले में विजयी शुरुआत करने के इरादे से उतरेगी। भारतीय महिला टीम को 2018 के टी-20 विश्वकप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस बार भारत फाइनल में पहुंचकर खिताब अपने नाम करना चाहेगा। 2018 के विश्वकप में अनुभवी बल्लेबाज मिताली राज को सेमीफाइनल से बाहर रखने पर काफी विवाद हुआ था, लेकिन इस बार मिताली टीम का हिस्सा नहीं हैं और हरमनप्रीत पर टीम को चैंपियन बनाने की पूरी जिम्मेदारी रहेगी। भारत ने टी-20 विश्व कप की तैयारी के लिए हाल में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के साथ एक त्रिकोणीय महिला टी-20 सीरीज भी खेली थी, जिसके फाइनल में भारत को आस्ट्रेलिया से एक कड़े मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था। आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2017 में एकदिवसीय विश्वकप के सेमीफाइनल में मिली जीत भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिए सबसे बड़ी उपलब्धि मानी जाती है। भारत के लिए बड़ी राहत की बात यह है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2016 में टी-20 सीरीज में जीत हासिल करने वाली टीम के सात खिलाड़ी इस बार की विश्वकप टीम में हैं। भारत ही एकमात्र ऐसी टीम है जिसने हाल के वर्षों में आईसीसी के बड़े टूर्नामेंटों में आस्ट्रेलिया को हराया है। भारत ने 2017 वनडे विश्व कप के सेमीफाइनल और टी-20 2018 विश्व कप के लीग स्तर के मैच में आस्ट्रेलिया को हराया था, जिससे उसके इरादे बुलंद हैं।

भारतीय महिला टीम

हरमनप्रीत कौर (कप्तान), तानिया भाटिया (विकेटकीपर), हरलीन दियोल, राजेश्वरी गायकवाड़, ऋचा घोष, वेदा कृष्णमूर्ति, स्मृति मंधाना, शिखा पांडे, पूनम यादव, अरुंधति रेड्डी, जैमिमा रोड्रिगुएज, शेफाली वर्मा ,दीप्ति शर्मा, पूजा वस्त्रकार और राधा यादव

आस्ट्रेलिया महिला टीम

मेग लेनिंग (कप्तान), राचेल हेयंस, इरिन बर्न्स, निकोल कैरी, एश्ले गार्डनर, ऐलिसा हेली (विकेटकीपर), जैस जोनासन, डेलिसा किमिंस, सोफी मोलीनिक्स, बेथ मूनी, एलिस पैरी, मेगन शट, मोली स्ट्रैनो, अनाबेल सदरलैंड और जार्जिया वेरहम

उम्मीदों पर ध्यान नहीं

सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने कहा कि हमें खेल के महत्वपूर्ण विभागों पर ध्यान देना होगा, न कि उम्मीदों पर। मुझे नहीं लगता कि टीम की कोई भी खिलाड़ी इस बात को लेकर नर्वस है।

छह विश्वकप खेले, अब तक खिताब नसीब नहीं

छह विश्वकप खेल चुकी भारतीय टीम को अभी भी अपनी पहली टी-20 विश्व कप ट्रॉफी का इंतजार है, जो शायद इस बार पूरा हो सके। वेस्टइंडीज में खेले गए पिछले एडिशन में भी भारतीय टीम सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गई थी।

एक-दो खिलाडि़यों पर निर्भर नहीं रहेंगे

सिडनी - भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने गुरुवार को कहा कि उनकी टीम को टी-20 विश्वकप में एक या दो खिलाडि़यों पर निर्भर रहने की बजाय एक टीम के रूप में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। भारत अब तक छह बार हुए इस टूर्नमेंट में फाइनल तक नहीं पहुंच सका है। दो साल पहले भारतीय टीम सेमीफाइनल तक पहुंची थी। हरमनप्रीत ने कहाकि एक टीम के रूप में अच्छा खेलने के लिए आपको तालमेल में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। पिछले टूर्नामेंटों से हमने सीखा है कि एक या दो खिलाडि़यों पर ही जीत के लिए निर्भर नहीं रहा जा सकता।

आस्ट्रेलिया प्रबल दावेदार, पर भारत भी कमजोर नहीं

नई दिल्ली - अनुभवी मिताली राज ने शुक्रवार को भारत के खिलाफ होने वाले आईसीसी महिला टी-20 वर्ल्ड कप के शुरुआती मैच में आस्ट्रेलिया को जीत का प्रबल दावेदार बताया, लेकिन उन्हें उम्मीद है कि इस मुकाबले में काफी रन बनेंगे और यह बेहद करीबी मैच होगा। मिताली ने आईसीसी के लिए एक कॉलम में लिखा कि आस्ट्रेलिया प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगा, लेकिन भारत भी कमजोर नहीं है। उनके पास कुछ बेहद प्रतिभावान खिलाड़ी हैं और मुझे लगता है कि यह काफी करीबी मुकाबला होगा और इसमें काफी रन बनेंगे।