Monday, June 01, 2020 01:50 AM

आपदा से मिले जख्मों पर मरहम

जिला में क्षतिग्रस्त हुए 115 मकान के पुनर्निमाण को दो करोड़ 30 लाख जारी    

धर्मशाला    -मुख्यमंत्री आवास योजना के अंतर्गत विभिन्न विकास खंडों में गत वर्ष प्राकृतिक आपदा से क्षतिग्रस्त हुए 115 मकानों के पुनर्निमाण के लिए दो करोड़ तीस लाख की राशि अनुदान के रूप में प्रदान की जाएगी। एडीसी राघव शर्मा ने बताया कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य निर्धन परिवारों के गृह निर्माण तथा प्राकृतिक आपदा जैसे बर्फ, बारिश, बाढ़, बादल फटने, आसमानी बिजली गिरने, आग व भूकंप इत्यादि से क्षतिग्रस्त मकानों के पुनः निर्माण के लिए सहायता प्रदान करना है। उन्होंने बताया कि जिला कांगड़ा में इस योजना के तहत विकास खंड नूरपुर के 45, विकास खंड इंदौरा के आठ, विकास खंड नगरोटा-बगवां के नौ, विकास खंड सुलाह के भेडू महादेव के छह, विकास खंड भवारना के तीन, विकास खंड देहरा के 13, विकास खंड पंचरुखी के सात, विकास खंड फतेहपुर के सात व विकास खंड परगपुर के 17 लाभार्थियों को इसका लाभ संबंधित खंड विकास अधिकारियों के माध्यम से शीघ्र दिया जा रहा है। अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए जिला कांगड़ा के विभिन्न विकास खंडों के 221 लाभार्थियों का चयन किया गया है। इसमें विकास खंड बैजनाथ के 37, विकास खंड भवारना के 11, विकास खंड देहरा के 17, विकास खंड धर्मशाला के पांच, विकास खंड फतेहपुर के 24, विकास खंड इंदौरा के 11, विकास खंड कांगड़ा के 46, विकास खंड लंबागांव के छह, विकास खंड नगरोटा-बगवां के 21, विकास खंड नगरोटा सूरियां के 30 व विकास खंड परागपुर के 13 लाभार्थी शामिल है। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत गृह निर्माण के लिए एक लाख 50 हजार रुपए की अनुदान राशि प्रति लाभार्थी को संबंधित खंड विकास अधिकारियों के माध्यम से उपलब्ध करवाई जाएगी तथा इन सभी मकानों का निर्माण प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा। राघव शर्मा ने स्थानीय जनता से अपील करते हुए कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव के लिए जिला प्रशासन तथा स्थानीय प्रशासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए सहयोग करें तथा सभी निर्माण कार्यों के निष्पादन में सामाजिक दूरी का बनाए रखें, ताकि इस आपदा से बचा जा सके।