आप स्क्रिप्ट को नहीं चुनते, स्क्रिप्ट आपको चुनती है

मनारा चोपड़ा

अनुभव सिन्हा द्वारा निर्देशित ‘जिद’ से फिल्म इंडस्ट्री में डेब्यू करने वाली खूबसूरत अदाकारा अभिनेत्री मनारा चोपड़ा आगामी तेलुगु फिल्म ‘सीता’ में नजर आएंगी और वह इस फिल्म को लेकर काफी उत्साहित हैं। उनके साथ हाल ही में हुई बातचीत के मुख्य अंश पेश हैं...

आप की आगामी फिल्म ‘सीता’ के बारे में बताइए और उस में आपकी क्या भूमिका है?

‘सीता’ फिल्म मेरे लिए बहुत स्पेशल है। बिकॉज उनके डायरेक्टर टेकरा जो बहुत सारी फिल्में कर चुके हैं और हिंदी फिल्मों के अलावा बाबा तेलुगू फिल्म के अभी बहुत बड़े डायरेक्टर हैं, तो मेरे लिए बहुत बड़ी अपॉर्चुनिटी थी। ‘सीता’ में मेरा किरदार पॉजिटिव है और बहुत सारे फन एनिमल्स है। आप ट्रेलर में देख सकते हैं तो वह बार-बार बोलती है सो क्यूट तो वह उनका एक का टैगलाइन है वह बहुत सा क्यूट कैरेक्टर है फनी भी है और पॉजिटिव कैरेक्टर है।

‘जिद’ के बाद आपने हिंदी फिल्में नहीं की, क्या वजह रही?

दरअसल जब मैंने ‘जिद’ की उसके बाद मुझे हिंदी में और साउथ में जो मुझे ऑफर आए उनमें से साउथ में जो ऑफर आए वो बहुत बड़े डिरेक्टर के साथ थे तो ऑब्सलि यू नौ अगर जब आपको बहुत बड़ी फिल्म का हिस्सा बनने और काम करने को मिलता है आप सबसे पहले यही देखते हैं कि आपके लिए सबसे बड़ी अपॉर्चुनिटी क्या है।

फिल्म इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाए रखना आपके लिए कितना मुश्किल था?

बेसिकली जब मैंने ‘जिद’ की तब बैक टू बैक साउथ में फिल्म आती रही। मतलब मैं ऐसा नहीं कहूंगी कि मेरे लिए बहुत मुश्किल रहा है की ‘ओह माय गॉड’ फिल्म नहीं फिल्म रही और मुश्किल डेफिनेटली एंनीसली जब आप इंडस्ट्री में आते आप स्क्रिप्ट को नहीं चुनते स्क्रिप्ट आपको चुनती है। उस हिसाब से थोड़ा स्ट्रगल और ट्रेस रहता है कई बार ऐसा होता है कि बहुत अच्छी फिल्म होती है ,लेकिन आप रोल नहीं करना चाहते और कहीं बार रोल करना चाहते तो जो फिल्म का उसका मैडनम और जो सेटप जो होता है वह बहुत जाता एक्टिव नहीं लगता और इस तरह की तो मुश्किल आती रहती है और मैं हमेशा लकी रही हूं कि मेरे पास कुछ न कुछ स्क्रिप्ट आ जाती है।

कुछ लोगों का कहना है कि फिल्म इंडस्ट्री में रिलेटिव होने का फायदा है कि आपको ज्यादा स्ट्रगल नहीं करना पड़ता,आपका क्या मानना है?

आई डोंट नो की ज्यादा स्ट्रगल करना पड़ता है कि नहीं और मैंने कभी भी कंसिस्टेंट नहीं किया की ‘ओ माय गॉड’ में फिल्म या फिल्म इंडस्ट्री में एक्टर या एक्ट्रेस के रिलेटिव हूं मुझे जो भी काम मिला है अपनी वजह से मिला है और अपनी मेहनत की वजह से मिला है मेरे लिए कभी ऐसा नहीं हुआ कि किसी ने मेरे लिए रिकमेंडेशंस हुई हो जो भी है खुद के हार्डवर्क से हुआ है।

आप की सफलता के पीछे किसका हाथ है?

मेरी सफलता के पीछे मेरा हार्ड वर्क डेडीकेशन और टैलेंट का हाथ है। एंड आई थिंक अब मुझे साउथ में जेन्युअली लोग मेरे डांस को बहुत पसंद करते हैं। और डेफिनेटली जो मैंने डांस सिखा बहुत बड़ा योगदान है।     

-दिनेश जाला

व्हाइट डेनिम्स से लेकर फ्लोरल ड्रेसेस तक, अस्मिता सूद समर के मौसम स्टाइल अंदाज में नजर आई

टेलीविजन की खूबसूरत अभिनेत्री अस्मिता सूद इस गर्मी के मौसम में अलग अंदाज में नजर आ रही हैं। बात दें कि अस्मिता इस समय ‘दिल ही तो है’ शो में नजर आ रही हैं और उन्होंने हाल ही में कुछ नई तस्वीरें क्लिक की हैं और उन तस्वीरों में अस्मिता एक बेहतरीन अंदाज में दिख रही हैं और वेस्टर्न वियर में बिलकुललरवीश लग रही हैं।

माधुरी पांडे कहती हैं लुकिंग ग्लैमरस काम की आवश्यकता

अभिनय और गायन के शिल्प के लिए एक कसीदाकारी रखते हुए, अभिनेत्री और गायिका माधुरी पांडे, जो पहले से ही भारतीय टेलीविजन उद्योग में एक महत्त्वपूर्ण स्थान बना चुकी हैं, कलर्स टीवी पर उच्चतम टीआरपी शो ‘नागिन 3’ में एक अभिन्न भूमिका निभा रही हैं। माधुरी एक ग्लैमरस अवतार में नजर आ रही हैं। अपने अभिनय के अलावा, उनका लुक पहले से ही एक ट्रेंड सेटर है। अपनी भूमिका के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि ‘प्रदर्शन उन्मुख भूमिकाएं उनकी प्राथमिकता हैं कौन ग्लैमरस नहीं दिखना चाहता है। लोग क्या सोचते हैं इसके विपरीत, हर समय ग्लैमरस दिखना बहुत मुश्किल है। इसके लिए काम की आवश्यकता होती है। मैं एक महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए भाग्यशाली हूं।

Related Stories: