Tuesday, July 16, 2019 11:42 PM

आबुधाबी में चमके हिमाचल के खिलाड़ी

 शिमला —आबुधाबी में खेली जा रही वर्ल्ड समर स्पेशल चैंपियनशिप में हिमाचल प्रदेश के खिलाडि़यों ने शानदार प्रदर्शन किया है। राज्य के स्पेशल खिलाड़ी अभी तक देश के लिए चार कांस्य पदक दिला चुके हैं। साथ ही प्रदेश की बास्केटबॉल टीम ने सेमीफाइनल में अपनी जगह बना ली है। वहीं बास्केटबाल में देश के लिए एक और पदक पक्का कर लिया है। हिमाचल के दो खिलाडि़यों ने इस चैंपियनशिप में बेहतरीन प्रदर्शन कर पावर लिफ्टिंग व साइकिलिंग में देश व प्रदेश को गौरवान्वित किया है। बिलासपुर से ताल्लुक रखने वाली पूजा ने पावर लिफ्टिंग में तीन कांस्य पदकों पर कब्जा जमाया है। वहीं बिलासपुर के ही शुभम ने साइकिलिंग में देश के लिए कांस्य पदक जीता है। शिमला से यूनिफाइड पार्टनर जतिन व मंडी के चिराग ने बास्केटबाल में सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है। वर्ल्ड चैंपियनिशप आबुधाबी में खेली जा रही है। इस प्रतियोगिता का समापन 21 मार्च को होना है। हिमाचल प्रदेश से इस चैंपियनशिप में सात स्पेशल खिलाडि़यों के साथ एक यूनिफाइड पार्टनर भारतीय दल का प्रतिनिधित्व कर रहा है। प्रदेश से आठ खिलाडि़यों के चयन के साथ चार प्रशिक्षक भी इस प्रतियोगिता में भाग ले रहे हैं। हिमाचल से खिलाडि़यों में चार खिलाड़ी मंडी से, दो खिलाड़ी बिलासपुर से और एक ऊना से शामिल है, जबकि एक शिमला से यूनिफाइड पार्टनर इस स्पेशल समर गेम्स में भाग ले रहे हैं। मंडी से वालीबाल में विनोद, अभिषेक, दौड़ में निशा धवन और बास्केबाल में चिराग इस स्पर्धा में दमखम दिखा रहे हैं। बिलासपुर से साइकिलिंग में शुभम, पावर लिफ्टिंग में पूजा देवी और ऊना से साइकिलिंग रघुनाथ इस स्पर्धा में शानदार प्रदर्शन कर  रहे हैं। ऐसे में हिमाचल प्रदेश के खिलाडि़यों से उक्त चैंपियनशिप में और पदकों की उम्मीद जगी है। गौर हो कि हिमाचल प्रदेश से अभी तक 54 स्पेशल खिलाड़ी इटरनेशनल चैंपियनशिप में भाग ले चुके हैं। इस मर्तबा प्रदेश से आठ और भारतीय दल का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। बता दें कि हिमाचल के खिलाडि़यों ने देश का प्रतिनिधित्व कर वर्ष, 2003 में दो, 2007 में चार, 2009 में छह, 2011 मे पांच, 2013 में 13, 2015 में छह और साल 2017 में 18 खिलाडि़यों ने भारत का प्रतिनिधित्व कर देश को पदक दिलवाए हैं।