Tuesday, September 17, 2019 01:48 PM

 आर्थिक जनगणना 2019 में सटीक जानकारी दंे लोग

 डीसी सिरमौर का लोगों से आह्वान, जिला सिरमौर में 30 नवंबर तक चलेगा सर्वे का कार्यक्रम

नाहन -जिला सिरमौर में की जा रही आर्थिक गतिविधियों के आंकड़े जुटाने को लेकर सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय भारत सरकार द्वारा सातवीं आर्थिक गणना का कार्यक्रम जिला सिरमौर में 27 अगस्त से 30 नवंबर तक चल रहा है। इस अभियान के तहत जिला के लोगों से जिला प्रशासन द्वारा नियुक्त किए गए प्रगणकों व पर्यवेक्षकों  को घर-घर जाकर आर्थिक जानकारी जुटाने के निर्देश जारी किए गए हैं। इस मामले में डीसी सिरमौर एवं अध्यक्ष जिला समन्वय समिति सातवीं आर्थिक गणना जिला सिरमौर डा. आरके परूथी ने जिला सिरमौर के लोगों से अपील की है कि सातवीं गणना 2019 के लिए अपने क्षेत्रों में सरकार द्वारा नियुक्त किए प्रगणकों व पर्यवेक्षकों को अपना सहयोग व समर्थन प्रदान करें। उपायुक्त सिरमौर ने लोगों का आह्वान किया है कि वह सही जानकारी संबंधित व्यक्ति को प्रदान करे, ताकि जिला में आर्थिक गणना का कार्य निर्धारित समयसीमा व गुणवत्ता के आधार पर पूरा हो सके। गौर हो कि केंद्र सरकार के निर्देश के बाद जिला सिरमौर में आर्थिक गणना 2019 के अभियान को लेकर बीते 26 अगस्त को उपायुक्त सिरमौर द्वारा जिला में गणना का कार्य आरंभ किया गया था। यह आर्थिक गणना सिरमौर जिला की भौगोलिक सीमा के भीतर की जा रही है। आर्थिक गतिविधियों से संबंधित जानकारी जिला में तय किए गए लोकमित्र केंद्रों द्वारा नियुक्त किए गए प्रगणकों व पर्यवेक्षकों द्वारा निर्धारित प्रारूप में मोबाइल एप्लीकेशन की मदद से घर-घर एवं उद्यमों में जाकर सर्वेक्षण के माध्यम से सत्यापित की जाएगी। इसके तहत सभी नागरिकों को सटीक जानकारी उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए गए हैं। आर्थिक गणना के माध्यम से एकत्रित की गई जानकारी जिला में उद्यमों की वास्तविक आर्थिक स्थिति का आंकलन करने में मदद करेगी। एकत्रित की गई जानकारी आर्थिक गतिविधियों में लगे लोगों के जीवन स्तर को सुधारने की दिशा में विकासशील नीतियों के लिए काफी मददगार साबित होगी। इसके अलावा इस आर्थिक गणना के आधार पर गहन रोजगार के अवसर पैदा करने में भी मदद मिलेगी।  जिला सिरमौर में लोकमित्र केंद्रों का संचालन कर रहे प्रतिनिधियों में शामिल सुरेश कुमार, चमेल देसाई, विक्रांत आदि ने भी लोगों से सहयोग की अपील करते हुए कहा कि जो प्रतिनिधि लोकमित्र केंद्रों के माध्यम से आर्थिक जनगणना 2019 के लिए डोर-टू-डोर सर्वे कर रहा है उन्हें लोग सहयोग दें तथा सही जानकारी प्रदान करें।