Monday, July 13, 2020 05:01 PM

इटली में फंसे 250 भारतीयों को लेकर लौटी मनाली की ‘उड़नपरी’

मनाली - जहां पूरी दुनिया कोरोना के खौफ के साये में है, वहीं मनाली की बेटी शीतल अग्रवाल अपनी जान की परवाह किए बिना देश के लिए अपनी सेवाएं दे रही हैं। शीतल अग्रवाल एयर इंडिया में एयर होस्टेस हैं और हाल ही में शीतल एयर इंडिया के विमान में लगभग 190 इटली के विदेशी पर्यटकों को लेकर इटली उन्हें छोड़कर आई हैं, जबकि इटली सरकार ने इन इटलीवासियों को वापस ले जाने में असमर्थता जताई थी और भारत सरकार ने इन्हें अपने खर्चे पर वापस उनके देश छोड़ने का निर्णय लिया था। शनिवार को शीतल अपनी एयर इंडिया की टीम के साथ विदेशियों को उनके देश में छोड़ कर आई हैं। इसके साथ इटली में फंसे लगभग 250 भारतीयों को अपने वतन लेकर लौटी हैं। शीतल अग्रवाल के पिता राज अग्रवाल ने बताया कि उनकी बेटी विदेशी पर्यटकों को लेकर गई थी और वापसी में इटली में फंसे भारतीयों को लेकर भारत लौटी हैं। उन्होंने बताया कि उन्हें उनकी बेटी पर गर्व है कि ऐसी आपात स्थिति में भी वह अपनी सेवाएं देश के लिए दे रही हैं। उन्होंने बताया कि शीतल अब आने वाले सात दिन तक अपने घर के अंदर ही रहेंगी और बाहर किसी से भी नहीं मिलेंगी। उधर, शीतल का कहना है कि कोरोना वायरस के खतरे से जहां पूरा विश्व जूझ रहा है, वहीं वह अपने आप को सौभाग्यशाली मानती हैं कि वह इस आपदा की घड़ी में देश के लोगों के काम आ रही हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए सभी को सावधानियां बरतनी चाहिए।