Wednesday, August 12, 2020 06:58 AM

उन्नाव में जिंदा जलाई रेप पीडि़ता

यूपी में हैदाराबाद जैसी हैवानियत, गंभीर हालत के चलते लखनऊ से दिल्ली के लिए की एयरलिफ्ट

उन्नाव -हैदरबाद में महिला चिकित्सक के साथ हुई दंरिदगी से देश भर में उपजा जनाक्रोश अभी शांत भी नहीं हुआ था कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव में दुष्कर्म की शिकार एक युवती को जिंदा जलाए जाने की घटना ने सभ्य समाज को झकझोर कर रख दिया है। उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र में गैंगरेप की एक पीडि़ता को गुरुवार सुबह पांच लोगों ने जिंदा जलाने की कोशिश की। पुलिस ने मामले में सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि यह घटना बिहार थानाक्षेत्र के सिंदुपुर गांव की है। पीडि़ता 90 फीसदी तक जल गई है। वहीं उन्नाव गैंगरेप पीडि़ता को देर शाम 6ः30 दिल्ली के लिए एयरलिफ्ट किया गया। गैंगरेप द्वारा जला दिए जाने के बाद पीडि़ता का इलाजा लखनऊ के सिविल अस्पताल में चल रहा था, लेकिन उसकी हालत में कुछ सुधार नहीं हो रहा था, जिसके बाद अस्पताल के डाक्टरों ने उसे बहतर इलाज के लिए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेजने का फैसला किया। इसके बाद देर शाम लखनऊ में ग्रीन कॉरिडोर बनाकर गैंगरेप पीडि़ता को सिविल अस्पताल से लखनऊ एयरपोर्ट लाया गया। यहां से एक एयर एंबुलेंस पीडि़ता को लेकर दिल्ली रवाना हुआ। उधर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीडि़ता का इलाज सरकारी खर्च पर कराए जाने और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का दावा किया है। उन्नाव एसपी विक्त्रांत वीर ने बताया कि मार्च में रायबरेली के लालगंज थाना क्षेत्र में एक केस दर्ज हुआ था। इसमें लड़की की तरफ से आरोप था कि शादी का झांसा देकर दो लोगों द्वारा गैंगरेप किया गया। इन दोनों आरोपियों का नाम पेट्रोल डालकर जलाने की घटना में भी शामिल है। इधर, पीडि़ता के परिवार का कहना है कि जेल से छूटकर आए आरोपी पिछले दो दिनों से उन्हें धमकी दे रहे थे। पीडि़ता ने बयान दिया है कि गुरुवार तड़के चार बजे वह रायबरेली जाने के लिए ट्रेन पकड़ने बैसवारा बिहार रेलवे स्टेशन जा रही थी। गौरा मोड़ पर गांव के हरिशंकर त्रिवेदी, किशोर, शुभम, शिवम और उमेश ने उसे घेर लिया और सिर पर डंडे से और गले पर चाकू से वार किया। इस बीच, वह चक्कर आने से गिरी तो आरोपियों ने पेट्रोल डालकर आग लगा दी। बता दें कि इस केस की जांच रायबरेली पुलिस ने की थी। इस केस में दोनों आरोपी जेल से जमानत पर बाहर आए थे।

देश के गृह मंत्री और यूपी के सीएम ने झूठ बोला

इस मामले को लेकर यूपी सरकार पर प्रियंका गांधी ने हमला बोला। उन्होंने ट्वीट किया कि कल देश के गृह मंत्री (अमित शाह) और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री (योगी आदित्यनाथ) ने साफ-साफ झूठ बोला कि यूपी की कानून व्यवस्था अच्छी हो चुकी। हर रोज ऐसी घटनाओं को देखकर मन में रोष होता है। बीजेपी नेताओं को अब फर्जी प्रचार से बाहर निकलना चाहिए।

अपराध रोकने की गारंटी भगवान राम भी नहीं दे पाए

लखनऊ। देश में रेप की घटनाओं पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के एक मंत्री ने अजब बयान दिया है। राज्य सरकार में खाद्य-रसद और नागरिक आपूर्ति राज्यमंत्री रणवेंद्र प्रताप सिंह ऊर्फ धुन्नी सिंह ने कहा कि समाज में अपराध रोकने की गारंटी तो खुद भगवान राम भी नहीं दे पाए। रेप की घटनाओं को लेकर किए गए सवाल पर मंत्री धुन्नी सिंह ने कहा कि जब समाज है तो समाज में ये कह देना कि 100 फीसदी क्राइम नहीं होगा। ये स्योरिटी तो मुझे नहीं लगता कि भगवान राम ने भी दे पाई हो। तो 100 फीसदी नहीं है, लेकिन ये स्योरिटी जरूर है कि क्राइम हुआ है तो जेल जाएगा और उसके सजा कड़ी से कड़ी मिलेगी। ये तय है।