Monday, July 22, 2019 02:09 PM

ऊना अस्पताल से तीन प्रशिक्षु नर्सें अबसेंट

ऊना—क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में प्रशिक्षु नर्सों की रात्रि सेवाओं को हिमकैप्स संस्थान बढेड़ा के चेयरमैन व टीम ने मौके पर आकर औचक निरीक्षण किया। इस दौरान आपातकालीन वार्ड व अन्य तमाम वार्डों को चैक किया गया। संस्थान की और से की गई चैकिंग में तीन प्रशिक्षु नर्सें अनुपस्थित पाई गई। वार्डों के निरीक्षण के दौरान सात नर्सें सोई हुई पाई गई। जबकि दस नर्सें अपने-अपने वार्डों में ड्यूटी पर तैनात पाई गई। औचक निरीक्षण के दौरान अस्पताल में नर्सो में हड़कंप मच गया। मौके पर अनुपस्थित प्रशिक्षु नर्सों के परिजनों को इसकी जानकारी दे दी गई है। वहीं, स्टाफ को बिना बताए अनुपस्थित रहने के कारणों को लेकर जवातलबी भी किया जा रहा है। ट्रेनिंग के दौरान सोई हुई नर्सों को डांट फटकार लगाई गई। वहीं, संस्थान की और से चेतावनी भी जानी की गई है। हिमकैप्स संस्थान बढेड़ा के चेयरमैन देशराज राणा, कालेज की को-आर्डीनेटर टीचर प्रियंका चौहान एवं रविंद्र कुमार पर आधारित टीम ने बुधवार सुबह करीब तीन बजे क्षेत्रीय अस्पताल में तैनात प्रशिक्षु नर्सों का औचक निरीक्षण किया। संस्थान ने प्रशिक्षु नर्सों को ट्रेनिंग के दौरान अपना कर्त्तव्य निर्वहन करने के लिए कहा। हिमकैप्स संस्थान के चेयरमैन देशराज राणा ने कहा कि संस्थान नर्सों को बेहतर प्रैक्टीकल ट्रेनिंग देने के लिए क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में हर साल करीब आठ लाख रुपए रुपए की राशि जमा करवाता है। उन्होंने कहा कि इस ट्रेनिंग में प्रशिक्षु नर्सों की कोताही किसी भी स्तर पर सहन नहीं होगी। औचक निरीक्षण इसलिए किया गया है, ताकि प्रशिक्षु नर्से अपने कार्य को बेहतरी से कर सके और पीडि़त मानवता की सेवा करती रहे।