Friday, December 06, 2019 09:49 PM

एबीवीपी-एसएफआई में खूब चले लात-घूंसे

 जेएनयू प्रकरण को लेकर हमीरपुर में भिड़े छात्र, पुलिस ने शांत करवाया मामला

हमीरपुर वाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में तोड़ी गई विवेकानंद की मूर्ति को लेकर हमीरपुर में एबीवीपी व एसफआई के बीच झड़प हो गई। छात्रों ने एक दूसरे पर जमकर लात-घूंस बरसाए। कालेज प्रशासन व पुलिस के हस्तक्षेप के बाद माहौल शंात हो पाया। बाद में दोनों छात्र संगठनों ने अपनी-अपनी शिकायत कालेज प्रबंधन को सौंपी। बता दें कि शनिवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद इकाई हमीरपुर के कार्यकर्ता कालेज गेट के बाहर जेएनयू में तोड़ी गई स्वामी विवेकानंद की मूर्ति को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने एसएफआई और वामपंथ मुर्दाबाद के नारे लगा दिए। यह सुनकर कालेज के एसएफआई से जुड़े छात्रों ने एबीवीपी मुर्दाबाद  के नारे लगाना शुरू कर दिए। देखते ही देखते दोनों छात्र संगठनों के कार्यकर्ता एक दूसरे के आमने-सामने आ गए। नारेबाजी का यह दौर लड़ाई में तबदील हो गया। कुछ छात्रों ने इस दौरान एक दूसरे पर लात-घंूसे बरसा दिए। बीच बचाव में आए कालेज प्रशासन ने पुलिस के सहयोग से छात्रों को शांत करवाया। इसके बाद पूरा दिन कालेज का माहौल तनावपूर्ण रहा और पुलिस दल भी कालेज में मौजूद रहा। कालेज की उप-प्राचार्या प्रो. रीटा शर्मा ने कहा कि एबीवीपी के धरना-प्रदर्शन के बाद एसएफआई ने भी नारेबाजी की थी। इससे कालेज में माहौल तनावपूर्ण हो गया। कालेज प्रशासन ने पुलिस बुलाई और छात्रों को शांत करवाया। छात्रों ने अपनी-अपनी शिकायत सौंपी है। सोमवार को भी कालेज में पुलिस दल की तैनाती की मांग की गई है।

एबीवीपी ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया

एसएफआई के जिला प्रधान संतोष अत्री और कैंपस सचिव सौरभ पटियाल ने कहा कि एबीवीपी ने अपने प्रदर्शन में अभद्र भाषा का प्रयोग किया। इसके बाद एसएफआई ने प्रदर्शन शुरू किया। मूर्ति को नुकसान वापंथियों ने नहीं पहुंचाया है, लेकिन एबीवीपी फीस वृद्धि जैसे मुद्दे को मूर्ति को नुकसान पहंुचाकर दबाने का प्रयास कर रही है। दोषियों पर अगर कार्रवाई न की गई तो एसएफआई आंदोलन करेगी।

विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता पर हमला

एबीवीपी के जिला संयोजक अनिल ठाकुर और कैंपस सचिव अनुज का कहना है कि जब एबीवीपी कार्यकर्ता जेएनयू में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति तोड़ने  के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे तो एसएफआई वर्कर्ज ने कालेज में प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान एबीवीपी के एक कार्यकर्ता की कमीज फाड़ दी गई और उस पर लात-घ्ंाूसे भी बरसाए गए। पुलिस को शिकायत की गई है।