Thursday, November 14, 2019 02:15 PM

एमपी से लौटी सूत्रधार कला संगम की टीम

कुल्लू - संगीत नाटक अकादमी दिल्ली एवं नगर पालिका परिषद इटारसी के सहयोग द्वारा दो से छह नवंबर, 2019 तक इटारसी मध्य प्रदेश में देश.भारत की पारंपरिक, लोक एवं जनजातीय अभिव्यक्तियों का उत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पांच दिवसीय उत्सव का आयोजन मध्य प्रदेश के इटारसी में स्थित गांधी स्टेडियम में हुआ। इस राष्ट्रीय स्तरीय पांच दिवसीय उत्सव में भारत वर्ष के विभिन्न प्रांतों के 30 दलों ने भाग लिया, जिसमें प्रदेश का प्रतिनिधित्व सूत्रधार कला संगम कुल्लू  के 16 सदस्यीय दल ने किया।  कार्यक्रम में प्रतिदिन छह दलों ने भाग लिया, जिसमें सूत्रधार कला संगम के दल ने 05 नवंबर, 2019 को हिमाचली लोक संस्कृति पर आधारित कुल्लवी लोकनृत्य की प्रस्तुति दी। सूत्रधार कला संगम के इस 16 सदस्यीय दल में संस्था के महासचिव व दल प्रभारी सुंदर श्याम तथा वित्त सहसचिव जोगिन्दर सिंह के नेतृत्व में सुरेंद्र सिंह, भूपेंद्र ठाकुर, निशांत सन्नी, कृष्णा, सुनीता, पल्लवी, डिंपल, निखिल कौशल, अमित, पूर्ण चंद, सोहन लाल, सेस राम तथा डीणे राम ने अपनी बेहतरीन कला का प्रदर्शन किया। सूत्रधार कला संगम का 16 सदस्यीय दल स्वदेश भारत की पारंपरिक लोक एवं जनजातीय अभिव्यक्तियों का उत्सव कार्यक्रम के माध्यम से मध्य प्रदेश के इटारसी में हिमाचली संस्कृति की महक विखेर गुरुवार को कुल्लू वापस लौटा । इस दल के कुल्लू वापस पहुंचने पर संस्था अध्यक्ष दिनेश सेन सहित वरिष्ठ उपाध्यक्ष यनिंद्र कपूर, उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह, वित्त सचिव विजय गोएलए प्रेस सचिव राजेश शानू, सचिव मोनिका सागर व मंजुलता शर्मा, नाटक प्रभारी अतुल गुप्ता,  भंडार प्रभारी तिलक राज, संगीत सहप्रभारी प्रदीप कपूर व यशोदा शर्मा, नाटक सहप्रभारी केतन वर्मा, लोकनृत्य सहप्रभारी सीमा शर्मा, प्राचार्य संगीत अकादमी पं. विद्यासागर, आधुनिक नृत्य प्रशिक्षक सुरेश बौध तथा प्रबंधक उत्तम चंद ने बधाई दी। संस्था के अध्यक्ष दिनेश सेन ने यह कार्यक्रम प्रदान करने के लिए संगीत नाटक अकाडमी दिल्ली एवं नगर पालिका परिषद  इटारसी का आभार प्रकट किया है।