Tuesday, June 02, 2020 11:15 AM

और बढ़ सकती हैं स्कूलों की छुट्टियां

प्रदेश के ज्यादातर भवन क्वारंटाइन के लिए रिजर्व, अभी खाली करना मुश्किल

शिमला  - प्रदेश के स्कूलों में एक सप्ताह और छुट्टियां बढ़ाने की तैयारी में प्रदेश सरकार है। बताया जा रहा है कि 31 मई के बाद एक हफ्ता और छुट्टियों की घोषणा सरकार कर सकती है। प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार यह प्लानिंग कर रही है। बताया जा रहा है कि प्रदेश के अधिकतर स्कूल पहले से ही इंस्टीच्यूशनल क्वारंटाइन में रिजर्व हैं। ऐसे में यह समस्या भी सरकार के समक्ष आ सकती है। यही वजह है कि राज्य सरकार एक हफ्ता आगे स्कूलों में छुट्टियां बढ़ा सकती है। जानकारी मिली है कि राज्य के स्कूलों में अगर यह अवकाश बढ़ भी जाता है, तो ऐसे में मानसून में होने वाली छुट्टियों में ये दिन एडजस्ट किए जाएंगे। जून-जुलाई में डेढ़ माह की होने वाली छुट्टियों कटौती करने का प्लान सरकार बना रही है। इसके साथ ही राज्य के स्कूलों में अगर छुट्टियों को बढ़ा दिया जाता है, तो उसके बाद शनिवार को भी छात्रों को आना होगा। सरकार स्कूल टाइमिंग बढ़ा देगी। एक्स्ट्रा कक्षाएं छात्रों की लगाई जाएंगी। कोविड के बढ़ते इन मामलों को देखकर सरकार भी अभी कोई रिस्क नहीं लेना चाहती। वजह यह है कि सरकारी स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग में छात्रों को पढ़ना बेहद ही मुश्किल है।

एक-दो कमरों वाले स्कूलों में कैसे होगी सोशल डिस्टेंसिंग

सैकड़ों स्कूल राज्य में ऐसे हैं, जहां एक-दो क्लासरूम में ही छात्र पढ़ाई करने को मजबूर थे। ऐसे में अब एक व दो क्लासरूम में कैसे सोशल डिस्टेंसिंग हो, यह परेशानी बनी है। यही वजह है कि सरकार अभी स्कूल खोलने के मूड में नहीं है। गुरुवार को जिला उपनिदेशकों के साथ शिक्षा मंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंस भी की। इस कॉन्फ्रेंस में उपनिदेशकों ने कई सुझाव सरकार को दिए, जिसमें जिन स्कूलों को क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है, उन्हें खाली करने की मांग उठाई गई। सभी स्कूलों को सेनेटाइज करने का मामला भी उपनिदेशकों ने रखा था। फिलहाल अभी सरकार शिक्षा व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए प्लानिंग तो बना रही है, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों से यह चिंता बढ़ गई है। ऐसे में देखना होगा कि अब 31 मई के बाद प्रदेश के स्कूलों में एक सप्ताह का अवकाश बढ़ता है या नहीं।