Friday, December 13, 2019 07:23 PM

कभी अपनी गाड़ी को खटारा बनाना हो तो पंचरुखी में आ जाइए।

साहब प्रशासन सड़क पर तारकोल तो चढ़ाता गया पर किनारों को भरना भूल गया। विभाग और ठेकेदारों की इस भूल का खामियाजा दोपहिया वाहनों को ओंधे मुंह गिरकर और बड़े वाहन को इससे भी भारी नुकसान से चुकाना पड़ रहा है। बात यह है कि आपको रक्कड से पपरोला जाना हो या सलियाणा से आंद्रेटा, या इस सड़क से कहीं ओर, हालात एक जैसे ही मिलेंगे। यहां अधिकांश सड़कें ऊंची हैं तो किनारे काफी नीचे। यही नहीं इन किनारों में पड़े गड्ढे आपकी यात्रा को मंगल से अमंगल बना सकते हंै। लोगों ने विभाग से सड़कों के किनारों को बराबर करने की गुहार लगाई है। पंचरुख़ी से उपेंद्र कटोच की रिपोर्ट