Monday, April 06, 2020 06:37 PM

कर्फ्यू के ऐलान के बाद दुबके लोग

शाम को खाली हो गया पूरा शिमला; सड़कों पर पसरा सन्नाटा, खबर फैलते ही मचा हड़कंप

शिमला-प्रदेश भर में कर्फ्यू के ऐलान के बाद राजधानी शिमला में भी लोग खबर फैलते ही घरों में दुबकने लगे। दोपहर तक जो लोग घरों से बाहर निकलकर जरूरी वस्तुएं खरीदने निकले थे वे सभी तुरंत घरों को भागे। शाम को शिमला में पूरी तरह से सन्नाटा पसरा था और सड़कों पर इक्का-दुक्का वाहन भी नजर नहीं आए।  वैसे लोगों ने इस महामारी के खिलाफ जनता कर्फ्यू में सरकार का पूरा साथ दिया था मगर लॉक डाउन के बावजूद पूरी तरह से लोगों का बाहर निकलना बंद नहीं हो पाया था। ऐसे में कर्फ्यू लगाए जाने के बाद लोग भयभीत हो गए और चुपचाप से सड़कों से गायब हो गए। जिला के दूसरे क्षेत्र ठियोग, कुमारसैन, रोहडू, जुब्बल, रामपुर व दूसरे स्थानों पर भी कर्फ्यू की सूचना मिलने के साथ ही लोग घरों में दुबकने शुरू हो गए थे। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में साफ कहा कि लॉक डाऊन की पालना लोग सही तरह से नहीं कर रहे थे जिस कारण से कर्फ्यू लगाना जरूरी है। ऐसे में जिम्मेदारी लोगों की ही है जिन्होंने सरकार के निर्देशों की सही तरह से अनुपालना नहीं की। अब कर्फ्यू में लोगों को घरों में रहना ही होगा जोकि उनकी सेहत के लिए भी ठीक है। कर्फ्यू लगने के बाद पुलिस प्रशासन मुस्तैदी से सड़कों पर उतर गया। शहर के साथ जिला भर में पुलिस के जवान फील्ड में उतार दिए गए जो कर्फ्यू को लागू करने में डटे हैं।