Wednesday, September 30, 2020 02:10 PM

कर्फ्यू में मिली छूट से दो गज की दूरी रखकर कर रहे खरीददारी

कोरोना वायरस से बचने के लिए देश में सरकार ने लॉकडाउन कर रखा है। इसके कारण दुकानें भी बंद हैं, लेकिन कर्फ्यू में ढील मिले  पर लोग बाजारों में पहुंचकर वस्तुओं की खरीददारी कर रहे हैं। इससे लोगों को जरूरी सामान उपलब्ध हो रहा है, वहीं इससे सुविधा का भी भरपूर लाभ उठा रहे हैं। वहीं दुकानदारों भी सोशल डिस्टेंसिंग मापदंडों को पूरा करवा रहे हैं। जब इस बारे में दिव्य हिमाचल ने भराड़ी क्षेत्र में दुकानदारों व ग्राहकों से बातचीत की तो उन्होंने यूं रखे अपने विचार.... भराड़ी

ग्राहक कर रहे अनुशासन की पालना

भराड़ी उपतहसील में दुकानदार सोनू ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से ग्राहकों में अनुशासन का बहुत बढ़ावा हुआ है। पीएम द्वारा दो गज दूरी की बात को सभी मान रहे हैं और इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है।

दुकानें खुलने से मिल रहा फायदा

ग्राहक संजीव ठाकुर ने कहा कि दुकानें खुलने के बाद वह जरूरी वस्तुएं लाने के लिए जा रहे हैं। घर से दुकानें दूर होने के कारण व सामान नहीं खरीद पा रहे थे, लेकिन अब  दुकानें खुलने से कुछ सुविधा मिली है।

बाजार का माहौल बदल सा गया

ग्राहक मुनीष ने बताया कि बाजार में सामान खरीदने आम दिनों में तो रोज जाना होता था, लेकिन लॉकडाउन में बाजार का मौहाल एक दम बदल गया है। दुकानदार समय का पाबंद हो गया है।

बाजारों में चहल पहल हुई कम

ग्राहक कमल राज ने कहना है कि बाजार अब पहले की तरह नहीं रहे हैं। कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन चल रहा है। इसके चलते बाजारों में चहल-पहल बहुत कम हो गई है। सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी पालन कर रहे हैं।

ग्राहकों के हाथ सेनेटाइज करके दे रहे सामान

भराड़ी में सब्जी की दुकान करने वाले मोंटू  ने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग दो गज दूरी की बात को मानते हुए उन्होंने अपनी दुकान पर दायरा बनाया है। ग्राहकों को सेनेटाइज करने के बाद ही उनसे पैसे लेता हूं व फिर उनको सब्जी उपलब्ध करवाता हूं, ताकि लोगों को असुविधा न हो।

लोगों को घर में पहुंचा रहे किताबें

भराड़ी में पुस्तक विक्रेता रमेश कश्यप ने कहा कि लॉकडाउन में हल्की छूट मिलने से कुछ लोगों में भाग दौड़ ज्यादा तेज हो गई, लेकिन इस आपदा की घड़ी में सबसे ज्यादा जरूरी खुद को सुरक्षित रखना है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में जो छूट मिली है, उसमें मैं स्वयं पुस्तकें लोगों के घरों तक मुहैया करवा रहा हूं ।