Friday, October 18, 2019 04:34 PM

कहा था… मंदिर जा रहे हैं, कफन में लौटे

हटवास में शोक की लहर, जोगिंद्रनगर-सरकाघाट रोड पर हादसा, दो की जान गई

नगरोटा बगवां -गुरुवार दोपहर को मंदिर में माथा टेकने के बहाने घर से निकले चार युवकों में से दो की सड़क हादसे में मौत की खबर शुक्रवार सुबह जैसे ही उनके गृह क्षेत्र नगरोटा बगवां के हटवास पहुंची तो समूचे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। युवावस्था में आकस्मिक मौत का ग्रास बने युवकों की खबर हर किसी को झकझोर रही थी, तो परिवार के प्रति लोगों की संवेदनाएं भी फूट-फूट कर बाहर आती देखी गईं। हादसे में हटवास के ही दो युवक 28 वर्षीय सन्नी जो ड्राइवर के तौर पर अपनी आजीविका चलाता था तथा इसी उम्र का दूसरा रोहित मेहनत मजदूरी कर अपने पिता के अधूरे सपनों को पूरा करने में लगा था, अपनी जान गंवा बैठे । घटना की सूचना मिलने पर परिजनों संग घटनास्थल पर रवाना हुए हटवास के प्रधान स्वरूप कुमार ने परिजनों से मिली जानकारी के हवाले से बताया कि हटवास मझेटली के चार युवक गुरुवार दोपहर को एक साथ  कार में कहीं के लिए रवाना हुए । गुरुवार देर रात घर वापसी के दौरान जोगिंद्रनगर सरकाघाट रोड पर एक तीखे मोड़ पर उनकी कार 600 मीटर गहरी पहाड़ी में लुढ़क गई । हादसे का पता शुक्रवार सुबह उस समय लगा जब घास काटने जा रही एक स्थानीय महिला ने दुर्घटनाग्रस्त कार को देखा । मौके पर पहुंची पुलिस ने दस्तावेजों के आधार पर युवकों की शिनाख्त की, जिसमे दो को मौके पर ही मृत पाया जबकि पलटती कार से बाहर निकल चुके दो युवक घायल अवस्था में पाए गए । पुलिस ने घायलों को जोगिंद्रनगर अस्पताल में उपचार हेतु भर्ती करवाया, जिन्हें अब टांडा रैफर किया है।  मृतक सन्नी के पिता कबाड़ का काम करते हैं जबकि रोहित पहले ही अपने पिता को खो चुका था । जानकारी यह भी है कि प्रशासन ने मृतकों के परिजनों को दस-दस हजार तथा घायलों को पांच-पांच हजार की फौरी सहायता उपलब्ध करवाई है । घायलों में हटवास का 29 वर्षीय विशाल तथा मझेटली का 30 वर्षीय कालू राम शामिल है । उधर, हादसे पर विधायक अरुण मेहरा ने भी गहरा दुख व्यक्त करते हुए पीडि़त परिवारों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं । उन्होंने बताया कि उन्होंने जोगिंद्रनगर प्रशासन से भी संपर्क स्थापित किया है तथा टांडा मेडिकल कालेज प्रशासन को भी घायलों को बेहतर उपयुक्त उपचार देने को कहा है ।