Monday, July 13, 2020 04:21 AM

कांगड़ा में कोरोना के छह केस

लगातार बढ़ रहे मामलों से हड़कंप, पांच नागरिक मुंबई -एक जालंधर से पहुंचा

धर्मशाला    -उपायुक्त कांगड़ा राकेश कुमार प्रजापति ने कहा कि शनिवार को कांगड़ा जिला में कोरोना पॉजिटिव के छह नए मामले सामने आए हैं, जिनमें से पांच नागरिक मुंबई से वापस आए थे और परौर संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। अब इनको कोविड केयर सेंटर बैजनाथ में शिफ्ट कर दिया गया है। इनमें पालमपुर से एक, लंबागांव से दो, भवारना से एक तथा एक नागरिक जयसिंहपुर से संबंधित है, जबकि एक नागरिक जालंधर से वापस आया हैं। इन्हें राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज टांडा में रखा गया था। कांगड़ा जिला में अब कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या बढ़कर 35 हो चुकी है। उपायुक्त ने लोगों से अपील की है कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सभी नागरिक अपने ही घरों में रहें तथा बहुत आवश्यक हो तो ही अपने घरों से निकलें। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए जरूरी है कि प्रशासन और विशेषज्ञों की सलाह का पालन करें।  उन्होंने लोगों से सामाजिक दूरी का पालन करने, घर में बुजुर्गों का ध्यान रखने तथा इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा संक्रमण रोकने के लिए निर्देशित आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप डाउनलोड करने का भी आग्रह किया है।

 केरल से 35 पहुंचे

उपायुक्त ने बताया कि केरल की राजधानी त्रिवेंद्रम से 35 नागरिक ट्रेन के माध्यम से  सुबह दस बजे पठानकोट चक्की बैंक पहुंचे हैं तथा इन नागरिकों को संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर में भेजा गया है तथा मेडिकल चैकअप किया गया है। उन्होंने बताया कि रविवार सुबह दो बजे भी महाराष्ट्र के थाने से ट्रेन के माध्यम से नागरिक चक्की बैंक पहुंचेंगे। इन नागरिकों को भी क्वारंटाइन सेंटर तथा अन्य जिलों में पहुंचाने का प्रबंध कर लिए गए हैं।

बाहर से आए लोगों की तुरंत दें सूचना

उपायुक्त ने कहा कि सभी नागरिकों को स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों की अनुपालना करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर उनके गांव में या परिवार में बाहरी क्षेत्र से कोई भी व्यक्ति  आया हो तो उसके बारे में तुरंत प्रशासन  को सूचित करें, ताकि एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंचने वाले इस कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।