Thursday, August 22, 2019 05:44 PM

कांग्रेस ने इतिहास बदलने का मौका गंवाया

शांता कुमार बोले, ऑल इंडिया पार्टी परिवारवाद से बाहर ही नहीं आना चाहती

सोलन  - स्वस्थ एवं स्वच्छ लोकतंत्र के लिए मजबूत विपक्ष का होना आवश्यक है। भाजपा की जीत ऐतिहासिक है, लेकिन इससे लोकतंत्र कमजोर हुआ है, क्योंकि विपक्ष मजबूत ही नहीं है। कांग्रेस ऑल इंडिया पार्टी है, पर परिवारवाद से बाहर नहीं आना चाहती। कांग्रेस के पास मौका था कि वह इतिहास बदलती और किसी युवा को मौका मिलता, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने सोलन में मंगलवार को पत्रकारों से कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास डा. करण सिंह, दिग्विजय सिंह, डा. मनमोहन सिंह जैसे दिग्गज नेता हैं। इनसे सलाह लेनी चाहिए थी। अब नई पार्टी ऑल इंडिया पार्टी बनेगी, इसकी उम्मीद ही कम है। भ्रष्टाचार पर शांता कुमार ने कहा कि ऊपर से नीचे तक भ्रष्टाचार फैला हुआ है। दिल्ली से शिमला तक इसके लिए सफाई अभियान चला हुआ है, लेकिन भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए आम लोगों को खुलकर आगे आना होगा। डीएसपी जवाली के रिश्वतखोरी में पकड़े जाने पर उन्होंने कहा कि उसकी शिकायत काफी पहले से मिल रही थी। स्थानीय विधायक भी उससे खासे परेशान थे। इस मौके पर महेंद्र नाथ सोफत, डा. राजेश कश्यप सहित कई भाजपा नेता एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।

उपचुनाव की स्थिति से चिंतित

धर्मशाला उपचुनाव के लिए भाजपा में उहापोह की स्थिति पर पर शांता ने कहा कि ऐसी घटनाएं शर्मसार है। इससे चिंतित हूं। बड़े परिवार में कभी-कभी ऐसा हो जाता है, लेकिन मैं इसे जस्टीफाई नहीं करता। शुद्ध रूप से सेवा की राजनीति होनी चाहिए, महत्त्वाकांक्षी नहीं।

पार्टी में गेस्ट आर्टिस्ट जैसा हूं

शांता कुमार ने कहा कि उन्होंने चुनावी राजनीति पूरी तरह छोड़ दी है। अब वह पार्टी में एक गेस्ट आर्टिस्ट की तरह हैं। वह अपना पूर्व वक्त संस्था को देंगे। पालमपुर में करीब 15 करोड़ रुपए की लागत से वृद्धाश्रम बनाया जा रहा है। अधिकतर समय उसके लिए दूंगा।