Monday, October 21, 2019 07:40 AM

किचन गार्डन के लिए स्कूलों के पास स्पेस नहीं

शिमला —केंद्र सरकार की सरकारी स्कूलों में किचन गार्डन बनाने की योजना राजधानी में सिरे नहीं चढ़ पा रही है। शिमला के अधिकतर स्कूलों में स्पेस की कमी होने के चलते यह गार्डन स्कूल नहीं बना पा रहे हैं। शहर के लगभग 1100 स्कूलांें में से अभी तक सौ स्कूलों में किचन गार्डन नहीं है। बताया जा रहा है कि कई स्कूलों में ग्राउंड तक के लिए भी जगह नहीं है, ऐसे में किचन गार्डन कहां बनाएं, स्कूल प्रबंधन को यह समझ नहीं आ रहा है। बता दें कि केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने प्रदेश के सभी स्कूलों में स्वच्छता को ध्यान में रखते हुए किचन गार्डन बनाने के निर्देश दिए थे। बता दें कि केंद्र की ओर से किचन गार्डन में फेंसिंग के लिए बजट भी सरकार अलग से मुहैया करवाने जा रही है। बावजूद इसके  कई स्कूलों में अभी तक  किचन गार्डन नहीं बन पाया है। राजधानी के सरकारी स्कूलों के नाम भी इसमें शामिल हैं। अभी तक केवल पोर्टमोर स्कूल व इक्का दुक्का बड़े-बड़े सरकारी स्कूल ऐसे हैं, जहां पर मिड डे मील के किचन के साथ गार्डन बनाया गया है। इस गार्डन में छात्रों को दोपहर के खाने में हरी सब्जियां लगाई गई हंै। शिक्षा विभाग के पास भी ऐसे स्कूलों की लिस्ट मिली है, जहां पर किचन गार्डन बनाने के लिए जगह नहीं है, तो कई स्कूलांें ने स्पेस होने के बाद भी किचन गार्डन नहीं बनाए हैं। बता दें कि स्कूलों में किचन गार्डन की सुरक्षा के लिए फेंसिग करवाने तक बजट केंद्र ने इस साल हुई पैब की बैठक में स्वीकृत कर दिया था। उधर शिक्षा विभाग ने भी स्कूलों में किचन गार्डन बनाने के लिए स्कूल प्रबंधन को कोई राय व सुझाव नहीं दिया है। गौर हो कि प्रदेश के 15 हजार सरकारी स्कूलों में किचन गार्डन बनाने के बाद केंद्र सरकार को रिपोर्ट भेजनी है। शिक्षा विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार किचन गार्डन बनाने में शिमला जिला सबसे पीछे बताया जा रहा है। हालांकि शिक्षा विभाग ने जब इस बारे में स्कूलों से जवाब मांगा तो, उन्होंने भी कहा है कि गार्डन के लिए स्कूलों में स्पेस ही नहीं है।

गड्ढ़े बनाने में भी स्कूल सफल नहीं

हैरानी की बात है कि शिमला के सरकारी स्कूलों में मिड डे मील के वेस्ट खाने को गडढ़े में डालने में भी शहर के स्कूल सफल नहीं हो पाए हैं। हैरत तो यह है कि शिक्षा विभाग की टीम ने भी अभी तक वेस्ट खाने को कहां फेंका जा रहा है, इस पर कोई निरीक्षण नहीं किया।

स्कूलों में अब जल्द भेजी जाएगी टीम

अब जब केंद्र सरकार ने एक बार फिर से शिक्षा विभाग से किचन गार्डन की अपडेट मांगी है, तो विभाग जल्द जिला के स्कूलों में निरीक्षण के लिए टीम भेजने की योजना बना रहा है। इस दौरान गार्डन न बनाने पर स्कूल प्रबंधन से जवाब तलब किया जाएगा।