Friday, December 13, 2019 07:11 PM

किन्नौर में 51 गरीबों को घर

 कल्याण समीति की बैठक में नरेंद्र बरागटा ने दी जानकारी

रिकांगपिओ -समाज के कमजोर व निर्धन वर्गों के कल्याण के लिए आरंभ की गई योजनाओं का लाभ पात्र लोगो तक पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार काम कर रही है। यह बात हिमाचल प्रदेश सरकार में मुख्य सचेतक व जिला कल्याण समिति किन्नौर के अध्यक्ष नरेंद्र बरागटा ने आज रिकांगपिओ में जिला कल्याण समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा। बैठक की कार्रवाई का संचालन सहायक आयुक्त हर्ष अमनिंद्र सिहं ने किया। बैठक में विधायक जगत सिहं नेगी व जिला कल्याण समिति के सदस्य दौलत नेगी, उपमंडलाधिकारी कल्पा डा. मेजर अवनिंद्र कुमार, उपमंडलाधिकारी निचार मनमोहन सिहं, जिला कार्यक्रम अधिकारी अर्जुन नेगी, पुलिस उपअधीक्षक विपन कुमार, जिला कल्याण अधिकारी गिरधारी लाल शर्मा तथा अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे। बैठक की कार्रवाई का संचालन सहायक आयुक्त हर्ष अमनिंद्र सिहं ने किया। नरेंद्र बरागटा ने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के सभी वर्गों विशेष कर कमजोर वर्गों के कल्याण के लिए वचनबद्ध है । उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सामाजिक सुरक्षा पेंशन को 750 रुपए से बढ़ा कर 850 रुपए तथा 70 वर्ष या इससे अधिक आयु वर्ग के पात्र व्यक्तियों को बिना कोई आय सीमा के पेंशन को पहली जुलाई 2019 से 1300 रुपए से बढ़ा कर 1500 रुपए किया गया है। उन्होंने कहा कि किन्नौर जिला में 5801 पात्र व्यक्तियों को सामाजिक सुरक्षा पंेशन के अधीन लाया गया है जिस में से 70 से अधिक आयु वर्ग के 3229 व्यक्ति शामिल है और इन्हे 1500 रुपए प्रतिमाह की दर से सामाजिक सुरक्षा पंेशन प्रदान की जा रही है। बरागटा ने कहा कि जिला में कल्याण विभाग में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत वर्ष 2019-20 के लिए छह करोड़ 87 लाख 40 हजार रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि  गृह निर्माण अनुदान योजना के तहत अनुसूचित जाति के 16 व्यक्ति तथा अनुसूचित जनजाति के 35 व्यक्तियों को क्रमशः 21.50 लाख व 45.70 लाख की राशि का प्रावधान किया गया है।