Friday, September 20, 2019 01:04 AM

कुफरी में सबसे ज्यादा बारिश

शिमला में 40 मिलीमीटर बरसे मेघ, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, आज भी होगी भारी बारिश

शिमला -मानसून ने रौद्र रूप धारण कर दिया है। जिला शिमला में शनिवार को झमाझम बारिश हुई। शिमला में बीते शुक्रवार शाम के समय भी मूसलाधार बारिश रिकॉर्ड की गई थी। शनिवार को भी दिन भर हुई बारिश ने लोगों को डरा कर रख दिया है। मौसम विभाग की मानें, तो जिला शिमला में रविवार को भी मौसम जमकर कहर बरपाएगा। मौसम विभाग ने रविवार को जिला शिमला के कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार जिला शिमला 22 अगस्त तक मौसम खराब बना रहेगा। इस दौरान जिला के अनेक स्थानों पर बारिश होने की संभावना जताई है। शिमला में शनिवार को सुबह से ही बारिश शुरू हो गई थी, जो क्रम दिन भर जारी रहा। जिला के ऊपरी क्षेत्रों में भी मूसलाधार बारिश रिकॉर्ड की गई है। बारिश होने से अधिकतम तापमान में फिर से गिरावट आई है। अधिकतम तापमान में दो डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई है। जिला शिमला के ऊपरी क्षेत्रों में बीते शुक्रवार रात के समय भी कई स्थानों पर बारिश हुई है। कुफरी में सबसे अधिक बारिश आंकी गई है। कुफरी में 57 मिलीमीटर बारिश हुई है। इसके अलावा रोहडू के खदराडा मंे 43, शिमला में 40, कुमारसैन में 23, रामपुर में 13 और रोहडू में 15 मिलीमीटर बारिश हुई है, जबकि वीकेंड पर शिमला में जमकर बारिश हुई है। शिमला मेें लगातार हो रही बारिश अब जनता को डराने लगी है।

बारिश ने रोकी सेब सीजन की रफ्तार

जिला शिमला में बीते शुक्रवार से हो रही बारिश ने सेब सीजन की रफ्तार धीमी कर दी है। जिला के ऊपरी क्षेत्रों मंे भारी बारिश रिकॉर्ड की जा रही है। ऐसे में बागबानों को सेब तुड़ान कार्य में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सेब तुड़ान कार्य प्रभावित होने से फल मडियों में अराइवल काफी लुढ़क गया है। बागबान सेब तुडान कार्य के लिए मौसम के साफ होने का इतंजार करने लगे हंै।

वाहन चालकों को झेलनी पड़ी दिक्कतें

जिला शिमला के अधिकतर क्षेत्रों मंे शनिवार को धुंध घिरी रही। धुंध घिरने से वाहन चालकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। खासतौर पर जिला शिमला के ऊपरी क्षेत्रों में घनघोर धुंध के घिरने से वाहन चालकों को परेशानियों का सामना करना पड़ा।