Friday, December 13, 2019 07:20 PM

कुल्लू को सौंपा बाबा नानक औषधालय

550वें प्रकाशोत्सव पर मंत्री गोविंद सिंह ने किया उद्घाटन, फिजियोथैरेपी सेंटर की भी सौगात

कुल्ल गुरु नानक देव जी का जीवन भक्ति और वैराग्य से परिपूर्ण रहा है। उन्होंने समाज को जो शिक्षाएं और उपदेश दिए हैं, वे सदैव प्रासंगिक रहेंगे।  े उद्गार वन व परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने गुरुद्वारा सिंह सभा कुल्लू में गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव पर व्यक्त किए। इस अवसर पर मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने जहां गुरुद्वारा कुल्लू में माथा टेका,  वहीं गुरुद्वारा परिसर में बाबा नानक औषधालय, फिजियोथैरेपी केंद्र और बच्चों के ट्यूशन केंद्र का विधिवत उद्घाटन किया। औषधालय में गरीब व जरूरतमंद लोगों को निःशुल्क उपचार व दवाइयों की सुविधा प्रदान की गई है। कार सेवा दल कुल्लू अनेक सामाजिक कार्यों का निष्पादन निःस्वार्थ भाव से कर रहा है और अधिक से अधिक लोगों को सामाजिक सरोकार के कार्यों के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने गुरु नानक देव जी के दर्शाए मार्ग का अनुसरण कर अपने जीवन को सार्थक बनाने का लोगों से आग्रह किया। मंत्री ने कहा कि गुरु की महिमा और कृपा पर सभी धर्मों के लोगों पर सदियों से आस्था रही है। साधु-संतों की संगत से व्यक्ति अपने जीवन के हर विकार से मुक्ति प्राप्त कर सकता है। समाज में एक आदर्श जीवन जीने की विधाओं को प्राप्त कर सकता है। उन्होंने कहा कि समाज में परंपराओं, नैतिक मूल्यों का प्रवाह और सुसंस्कृत बनने का विचार केवल महान पुरुषों की संगत और उनके विचारों के अनुसरण से ही संभव है।  न्होंने कहा कि मानव शरीर बड़ी मुश्किल से प्राप्त होता है, जहां ईश्वर की प्राप्ति की जा सकती है। अध्यात्म के समान कोई दौलत नहीं है, जो व्यक्ति का बौद्धिक और वैचारिक विकास करता है। उन्होंने कहा कि निःस्वार्थ भाव से व्यक्ति व समाज की सेवा करना परमधर्म है और हमें ऐसे संस्कार और विचारों का संचार भावी पीढ़ी को देने की नितांत आवश्यकता है।

मंत्री ने पूछा जख्मी युवक का हालचाल

कुल्लू। वन, परिवहन, युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने काईस गांव का दौरा किया और भालू के हमले में घायल युवक का कुशलक्षेम पूछा और परिजनों से बातचीत की। 

गुरुद्वारे के लोगो का विमोचन

मंत्री ने इस मौके पर गुरुद्वारे के लोगो का भी विधिवत विमोचन किया। इसके अलावा गुरुद्वारा में प्रतिदिन लंगर का आयोजन किया जाएगा। यह लंगर पूर्व में सप्ताह में एक बार ही आयोजित किया जाता था। मंत्री ने गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को गुरुद्वारे में निर्माण कार्यों के लिए पांच लाख रुपए की घोषणा की। इसके अलावा, उन्होंने अपनी ओर से गुरुद्वारा के अन्य कार्य-कलापों के लिए एक लाख रुपए की राशि भी प्रदान की। मंत्री ने गुरुद्वारा में माथा टेका और कीर्तन का आनंद उठाया।  पूर्व सांसद महेश्वर सिंह,  गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चेयरमैन संत हरबंस सिंह, वनमंत्री की धर्मपत्नी रजनी ठाकुर, अध्यक्ष गुरुद्वारा सिंह सभा जीएस बब्बू, कार सेवा दल के अध्यक्ष मनदीप सिंह डांग, एपीएमसी के अध्यक्ष अमर ठाकुर के अलावा अमित सूद, युवराज बोद्ध, अरविंद चंदेल सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर मौजूद रहे।