Tuesday, March 31, 2020 01:47 PM

कुल्लू पुलिस कंटेंट पर रखेगी नजर

कुल्लू - कोरोना वायरस कोविड-19 से निपटने के देश में लागू लॉकडाउन का हर व्यक्ति को पालन करना होगा। यदि सरकार के आदेशों की कोई उल्लंघना करेगा तो उसके ऊपर कड़ी कार्रवाई की जा रही है। जहां लोगों को घरों से बाहर नहीं निकलना होगा। वहीं, सोशल मीडिया पर अफवाहों का प्रसारण नहीं करना होगा। किसी ने वाट्सऐप, फेकबुक में अफवाहें फैलाई तो अब उसकी खैर भी नहीं होगी। कुल्लू पुलिस सख्त हो गई है। बाकायदा पुलिस ने सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए पुलिस की चार सदस्यीय टीम गठित कर दी है, जो 21 दिनों तक हर लोगों की सोशल मीडिया एक्टिविटी पर नजर रखेगी। पुलिस विभाग ने जिला कुल्लू पुलिस निर्देश जारी कर लोगों से अलर्ट के साथ अपील की है। खासकर ग्रुप एडमिन को कुल्लू पुलिस ने सख्त हिदायत दी है। पुलिस ने जारी निर्देश में ग्रुप एडमिन  को तीन बिंदुओं पर ध्यान रखने का ऐलान किया है। ग्रुप में यदि अफवाहें चली होगी तो एडमिन पर कार्रवाई हो सकती है। एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने सभी ग्रुप एडमिन से अनुरोध है किया है कि  वे अपने-अपने ग्रुप में पड़ने वाले कंटेंट पर कड़ी नजर रखे। संभव हो तो ग्रुप का नियंत्रण अपने हाथ में लें। जिससे अफवाहों के प्रसारण पर कड़ाई से नियंत्रण किया जा सके। अन्यथा किसी भी स्थिति में ग्रुप एडमिन की जिम्मेदारी तय की जाएगी, वहीं दूसरे बिंदु में पुलिस विभाग कुल्लू ने कहा कि जिला साइवर सैल लगातार सोशल मीडिया के जरिए फेसबुक,  व्हाट्सऐप और अन्य सूचना आदान प्रदान के ऐप्स पर नजर जमाए हुए है, अगर कोई भी व्यक्ति बिना जांचे परखे कोई भी सूचना जो कोविड-19 से जुड़ी हो, या सरकारी आदेशों से जुड़ी हो, पब्लिक को एफेक्ट करती हो, अपने फेसबुक, व्हट्सऐप के अलावा अन्य सोशल मीडिया के किसी भी माध्यम से शेयर करता है, के खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। यदि व्यक्ति विशेष को विषम परिस्थितियों में बाहर निकलने की जरूरत पड़ती है तो उन्हें ग्लव्स, मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए पहनना पड़ेगा। बिना ग्लव्स और मास्क के विषम परिस्थितियों में घूमने वाले लोगों को आदेशों की पालना करनी होगी। एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने कहा देश लॉकडाउन को लेकर हर लोगों को सतर्क रहना होगा। बिना कारण उन्हें बाहर निकलने की इजाजत नहीं है। सरकार के आदेशों की उल्लंघना करने वालों पर पुलिस कड़ी कार्रवाई अमल में लाएगी। पुलिस जहां सड़कों पर तैनात हैं। वहीं, सोशल मीडिया पर कौन अफवाहें फैला रहा है, पुलिस ने इसके लिए एक स्पेशल सैल तैनात कर दिया है।