कृषि विश्वविद्यालय को देश भर में 11वां रैंक

पालमपुर - भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद ने देश भर के सभी कृषि विश्वविद्यालयों में रैंकिंग पर पालमपुर स्थित चौधरी सरवण कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय को 11वें स्थान पर रखा है। गौर रहे कि वर्ष 2016 में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद ने विश्वविद्यालय को रैंकिंग  में 23वें स्थान पर रखा था और वर्ष 2017 में यह विश्वविद्यालय 19वें रैंक पर पहुंचने में सफल हुआ था। अब वर्ष विश्वविद्यालय का 11वें पायदान पर पहुंचना बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है। देश के 75 कृषि विश्वविद्यालयों, मानित विश्वविद्यालयों तथा भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के संस्थानों में पालमपुर विश्वविद्यालय ने शैक्षणिक, अनुसंधान, प्रसार शिक्षा व आमदनी प्राप्त करने में बेहतर रहने पर 11वां स्थान हासिल किया है। विद्यार्थियों ने इस कृषि विश्वविद्यालय की शिक्षा में विश्वास प्रकट किया है। यहां आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों की संख्या वर्ष 2016 में 9000 थी, जो वेटरिनरी व कृषि की 152 सीटों के लिए वर्ष 2017 में बढ़कर 17700 तक पहुंच गई है। यह सब इस विश्वविद्यालय के उच्च अकादमिक स्तर तथा विद्यार्थियों द्वारा जूनियर फेलोशिप, सीनियर फेलोशिप, कृषि वैज्ञानिक चयन मंडल की नेट परीक्षाओं व भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद की प्रवेश परीक्षाओं जैसी राष्ट्रीय स्तर की प्रतिस्पर्धाओं में सफलता व विभिन्न विभागों में नियुक्तियां प्राप्त करने के फलस्वरूप संभव हुआ है।

ये हैं टॉप 11 संस्थान

  1. नेशनल डेयरी रिसर्च इंस्टीच्यूट, करनाल
  2. इंडियन एग्रीकल्चरल रिसर्च इंस्टीच्यूट, दिल्ली
  3. जीबी पंत यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी, पंतनगर
  4. चौ. चरण सिंह एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, हिसार
  5. इंडियन वैटरिनरी रिसर्च इंस्टीच्यूट, बरेली
  6. प्रो हरिशंकर तेलंगाना स्टेट एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, हैदराबाद
  7. पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी, लुधियाना
  8. गुरु अंगद देव वैटरिनरी एंड एनिमल साइंसेज यूनिवर्सिटी
  9. जवाहर लाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, जबलपुर
  10. इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर
  11. चौ. सरवण कुमार कृषि विश्वविद्यालय, पालमपुर

Related Stories: