Wednesday, July 17, 2019 07:55 AM

केंद्रीय सड़क मंत्रालय ने जांची सुंदरनगर की सड़कें

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत हुए निर्माण कार्य की गुणवत्ता की ले रहे रिपोर्ट

सुंदरनगर -प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत सड़कों के निर्माण कार्य की गुणवत्ता को जांचने के लिए एक निरीक्षण दल सुंदरनगर पहुंचा है, जिसे भारत सरकार के केंद्रीय सड़क मंत्रालय द्वारा हिमाचल प्रदेश में इन दिनों ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कों को इस स्कीम के तहत बनाने के लिए निरीक्षण का जिम्मा दिया गया है, जिसमें ग्रामीण परिवेश की सड़कों को जोड़ने के लिए किए गए निर्माण कार्यों को जांचने के लिए टीम पहुंची है। स्टेट क्वालिटी मॉनिटर एचके गुप्ता ने बताया कि पिछले पांच-सात दिनों से सुंदरनगर विधानसभा क्षेत्र के तहत प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत बनाई गई सड़कों के निर्माण कार्य और उनकी गुणवत्ता को जांचा जा रहा है। उन्होंने बताया कि सुंदरनगर में सात ऐसी सड़कों का निर्माण कार्य जांचा गया, जिनमें से एक सड़क का निर्माण कार्य मानकों पर खरा उतरने की सूरत में उसकी रिपोर्ट ऑनलाइन भारत सरकार के केंद्रीय मंत्रालय को भेज दी गई है। उन्होंने बताया कि इस दौरान नाचन विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाली दो सड़कों के भी निर्माण कार्य और गुणवत्ता को जांचा गया, जो कि मानकों पर खरा आंकी गई है। उन्होंने बताया कि सड़कों के निरीक्षण के दौरान इनकी लोकेशन, फोटोग्राफ्स वास्तुस्थिति अन्य पहलुओं से केंद्रीय मंत्रालय को ऑनलाइन रिपोर्ट के माध्यम से स्थिति के बारे में अवगत करवाया जाता है। उन्होंने बताया कि इस दौरान तीन किस्म की सड़कों का निरीक्षण किया जाता है। प्रथम श्रेणी में कच्ची सड़क और द्वितीय श्रेणी में टायरिंग और तृतीय श्रेणी में रिपेयर और रखरखाव की सड़कों का ब्यौरा केंद्रीय मंत्रालय को उनके निर्माण कार्य और गुणवत्ता को लेकर ऑनलाइन ही प्रेषित किया जाता है। इस अवसर पर सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग सुंदरनगर ई. एनके चंदेल, सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग धनोटू जयपाल शर्मा समेत अन्य कनिष्ठ अभियंता और सदस्य मौजूद रहे।