Monday, August 10, 2020 10:18 PM

केंद्र सरकार के खिलाफ गरजी युवा कांग्रेस

सोलन में मिनी सचिवालय के समीप कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेशाध्यक्ष मनीष ठाकुर के नेतृत्व में केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध में की जमकर नारेबाजी

सोलन -युवा कांग्रेस ने सोमवार को सोलन मुख्यायल में केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला। युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेशाध्यक्ष मनीष ठाकुर के नेतृत्व में मिनी सचिवालय के समीप केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध में खूब नारेबाजी की। गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाने के विरोध में और राफेल मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेसीसी) के गठन की मांग कर रहे युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अमित शाह मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। कार्यकर्ताओं की नारेबाजी से पूरा मिनी सचिवालय परिसर गूंज उठा। प्रदर्शन के पश्चात मनीष ठाकुर व अन्य पदाधिकारियों ने उपायुक्त सोलन केसी चमन से मुलाकात की और इन दोनों मुद्दों को लेकर उनके माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भी सौंपा। इस ज्ञापन में उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार ने गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा में कटौती की है, जो कि सरासर गलत है। जिस परिवार के सदस्यों ने इस देश की एकता और अखंडता को मजबूत करने के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया है, उनकी सुरक्षा से इस तरह का खिलवाड़ सही नहीं है। पहले भी कई बार गांधी परिवार के सदस्यों के ऊपर सुरक्षा की दृष्टि से चूक हुई है। गांधी परिवार से एसपीजी सुरक्षा हटाने का निर्णय पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है। केंद्रीय गृह मंत्री का यह निर्णय पूर्ण रूप से राजनीतिक प्रतिशोध की भावना को दर्शाता है। भविष्य में अगर गांधी परिवार की सुरक्षा में कोई चूक होती है तो उसके लिए केंद्र सरकार और विशेष रूप से गृह मंत्री अमित शाह जिम्मेदार होंगे। साथ ही उन्होंने मांग की कि राफेल मामले में देश के सामने पारदर्शिता रखने के लिए संयुक्त संसदीय समिति (जेसीसी) का गठन किया जाए। इससे रक्षा सौदे की सच्चाई भारत की जनता के सामने आ सकेगी। इस अवसर पर मनीष ठाकुर सहित छतर ठाकुर, अमित ठाकुर व अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।