Sunday, August 09, 2020 04:52 AM

केजरीवाल 3.0: ना बाहरी मेहमान, ना नई टीम! ऐसा होगा शपथ समारोह

के चुनाव में लगातार दूसरी बार प्रचंड जीत हासिल करने के बाद अरविंद केजरीवाल मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के लिए तैयार हैं. रविवार को अरविंद केजरीवाल तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे और इसका गवाह पूरी दिल्ली बनने जा रही है. काम पर चुनाव जीतने का दावा करने वाले अरविंद केजरीवाल ने तय किया है कि वह अपनी टीम में बदलाव नहीं करेंगे और साथ ही किसी बाहरी मेहमान को न्योता भी नहीं देंगे. शपथ ग्रहण को लेकर किस तरह की तैयारियां हो रही हैं, जानिए...

केजरीवाल मेजबान, पूरी दिल्ली मेहमान

बुधवार को नए विधायकों के साथ बैठक में अरविंद केजरीवाल को विधायक दल का नेता चुना गया, जिसके बाद शपथ की तारीख भी तय हो गई. रविवार यानी 16 फरवरी को दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में अरविंद केजरीवाल अपनी कैबिनेट के साथ शपथ लेंगे. इसके लिए पूरी दिल्ली को न्योता दिया गया है, मनीष सिसोदिया ने कहा कि आपका बेटा केजरीवाल फिर शपथ ले रहा है, ऐसे में पूरी दिल्ली को शपथ लेने के लिए आना चाहिए.

किसी बाहरी को न्योता नहीं, खींची नई लकीर

अरविंद केजरीवाल तीसरी बार मुख्यमंत्री बने और भाजपा को चुनौती दी तो उन्हें राष्ट्रीय नेता के तौर पर देखा जाने लगा. लगातार दो बार मोदी लहर को केजरीवाल रोकने में कामयाब रहे हैं लेकिन अब उन्होंने खुद को दिल्ली तक सीमित रखने का तय किया है. इसका उदाहरण शपथ ग्रहण में ही दिखने लगा है क्योंकि आम आदमी पार्टी किसी बाहरी मुख्यमंत्री या अन्य नेताओं को शपथ ग्रहण में नहीं बुला रही है.