Tuesday, June 02, 2020 11:12 AM

केसीसीबी की एटीएम नहीं होगी बंद

गगरेट में बैंक ने टाला कक्ष को बंद करने का फैसला

गगरेट  - कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक  द्वारा गगरेट में स्थापित एटीएम कक्ष को बंद करने के निर्णय को फिलहाल टाल दिया गया है। एटीएम कक्ष से कम विद्ड्रॉल के साथ आरबीआई की गाइडलाइन का हवाला देते हुए बैंक प्रबंधन ने इसे बंद करने का निर्णय ले लिया था लेकिन विधायक राजेश ठाकुर के हस्तक्षेप के बाद बैंक प्रबंधन ने अपना यह निर्णय बदल दिया है। हालांकि बैंक प्रबंधन ने यह स्पष्ट किया है कि एटीएम कक्ष भविष्य में चलेगा या नहीं यह इसके इस्तेमाल पर निर्भर करेगा। गगरेट कस्बे में स्थित अन्य राष्ट्रीयकृत बैंकों द्वारा भी एटीएम कक्ष स्थापित किए गए हैं जबकि दि कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक द्वारा भी यहां उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए एक एटीएम कक्ष की स्थापना की गई थी। बताया जा रहा है कि इस एटीएम से न के बराबर विद्ड्रॉल होने के चलते बैंक प्रबंधन ने इसे स्थायी रूप से बंद करने का निर्णय लिया था। हालांकि बैंक प्रबंधन की दलील थी कि आरबीआई भी कैशलैस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा दे रहा है और आरबीआई की गाइडलाइन भी एटीएम की संख्या कम करने की है। एटीएम कक्ष बंद होने की सुगबुगाहट से ही इसके विरोध में स्वर उठ पाएं उससे पहले ही मामला विधायक राजेश ठाकुर तक पहुंचने पर उन्होंने उक्त मामला बैंक के चेयरमैन राजीव भारद्वाज के समक्ष उठाया और एटीएम कक्ष को बंद न करने की गुहार लगाई। जिस पर चेयरमैन राजीव भारद्वाज ने अगले दो माह बाद फिर से एटीएम के प्रयोग की समीक्षा करने की बात कहकर फिलहाल एटीएम कक्ष बंद करने के निर्णय को टाल दिया है। बैंक के चेयरमैन राजीव भारद्वाज ने बताया कि विधायक राजेश ठाकुर ने भी एटीएम कक्ष बंद न करने की सिफारिश की है। हालांकि गगरेट स्थित एटीएम कक्ष का प्रयोग बहुत कम हो रहा है। फिर भी बैंक प्रबंधन ने दो माह बाद इसकी समीक्षा करने का निर्णय लिया है। फिलहाल ये एटीएम कक्ष बंद नहीं किया जा रहा है।