Sunday, November 17, 2019 04:18 PM

कोटरूपी-खजरी सड़क न सुधारी तो पद्धर में प्रदर्शन

पद्धर - उपमंडल पद्धर के अंतर्गत लोक निर्माण विभाग पद्धर के अधीन कोटरूपी-चुक्कू-खजरी राज्य मार्ग पर विभाग की अनदेखी के चलते  सफर करना जान को जोखिम में डालना साबित हो रहा है। यहां आम आदमियों को तो छोड़ो पशुओं का चलना भी मुश्किल हो गया है।  कोटरूपी-चुक्कू-खजरी मार्ग में नागणी के समीप गैल नाला के पास सड़क तालाब में तबदील हो गई है। यहां बरसात में नाले का रुख सड़क की ओर आ गया था। बरसात खत्म होने के बाद भी लोक निर्माण विभाग इसकी निकासी नहीं कर पाया है। यहां बने तालाब में बड़े-बड़े खड्डे पड़े हुए हैं, जिससे जहां वाहनों के कलपुर्जों का नुकसान हो रहा है। वहीं पैदल आवाजाही के लिए भी राहगीरों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। ग्रामीणों में केसर सिंह, लक्की, गुरुदेव, पवन कुमार, बलवीर, प्यार चंद, दिनेश कुमार, रणजीत सिंह, रमेश चंद, सुनील कुमार, हाछु राम, दुनी चंद, सुभाष चंद, गोबिंद राम, नरेश कुमार आदि ग्रामीणों का आरोप है कि लोक निर्माण विभाग खस्ताहाल मार्ग की कोई सुध नहीं ले रहा है। महकमे ने सड़क को चौड़ा करने के लिए बरसात से पहले यहां लगभग तीन किलोमीटर एरिया में कटिंग की है। बरसात में किए गए कटिंग कार्य ने इस मार्ग पर खासी तबाही मचाई। लगभग पंद्रह बार से अधिक यह मार्ग वाहनों की आवाजाही के लिए पूरी तरह बंद रहा। लोगों ने बताया कि इस दौरान पहाड़ी से हुए भू-स्खलन की जद में आने से चुक्कू स्कूल का स्टाफ  भी बाल-बाल बचा था। अभी तक यहां सड़क किनारे गिरे स्लिप भी महकमा नहीं उठा पाया है। गैल नाला के पास बने तालाब से वाहनों को आर-पार करना जोखिम भरा हो गया है। सड़क निर्माण का निरीक्षण करने विभाग के अधिकारी रोजाना इस मार्ग से होते हुए आते हैं, वे भी मार्ग की मरम्मत करने को आंखंे मूंदे हुए हैं। क्षेत्र के लोगों ने मार्ग की मरम्मत की मांग प्रदेश सरकार से की है। चेतावनी भी दी है कि इस मार्ग की मरम्मत के आदेश विभाग के अधिकारियों को नहीं दिए गए तो उपमंडल मुख्यालय पद्धर में सरकार के खिलाफ  धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इस बारे में एसडीओ पद्धर चमन चंदेल से बात नहीं हो पाई।