Tuesday, March 31, 2020 01:14 PM

कोरोना की आड़ में निकाले कामगार

मैहतपुर के उद्योग में पीएम की अपील को दिखाया जा रहा ठेंगा

ऊना-कोरोना वायरस की आड़ में काम न होने का बहाना लगा कर मैहतपुर के एक उद्योग ने वर्षों से कार्यरत कुछ कामगारों को निकाल कर मोदी की अपील और दलील को ठेंगा दिखाया है यह बात प्रदेश इंटक के महासचिव कामरेड जगत राम शर्मा ने कही। उन्होंने कहा कि उद्योग से निकाले कामगार उनसे मिलने पहुंचे व अपनी समस्या से अवगत करवाया। कामरेड जगत राम शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस की महामारी में यहां उद्योगों में कार्यरत मजदूरों एवं कामगारों का सहारा उद्योगपतियों को बनने की जरूरत है। इसके विपरीत मैहतपुर के एक टैक्सटाइल उद्योग के प्रबंधकों ने अपने 13 वर्ष पुराने कुछ कामगारों को कोरोना वायरस महामारी में काम न होने की दुहाई देकर उद्योग से निकाल दिया है। कई वर्षों से इस उद्योग में कार्यरत कामगारों में इससे रोष है। कामरेड जगत राम शर्मा ने कहा कि सरासर प्रधानमंत्री मोदी की अपील और दलील का उल्लंघन है। सरकार ने किसी कर्मचारी को न हटाने के निर्देश दिए हैं। जबकि ऐसे उद्योगपति महामारी के बहाने बनाकर अपने वरिष्ठ कर्मचारियों को बाहर कर रहे हैं। अगर उद्योगपतियों को मनमर्जी करने से न रोका गया तो मजबूर होकर सड़कों पर धरना देंगे। उन्होंने सभी गैर इंटक की यूनियनों से अपील की है बेरोजगार हो रहे कर्मचारियों की महामारी को रोकें। उन्होंने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से अपील की है कि निजी तौर पर दखल देकर इस अफरा तफरी को रोकें।