Saturday, January 23, 2021 04:15 AM

कोरोना को लेकर प्रशासन अलर्ट

ब्याह-शादियों पर नजर; कार्यक्रम के आयोजन को लेनी होगी परमिशन, नियमों का करना होगा पालन

स्टाफ रिपोर्टर — भुंतर कोरोना संक्रमण के मामलों में एकाएक तेजी आने से चिंता में आई सरकार और प्रशासन ने ब्याह-शादी जैसे समारोह में लोगों की बेरोकटोक एंट्री पर शिकंजा कसने को जमीनी स्तर पर प्रयास तेज कर दिए हैं। जिला प्रशासन से निर्देश मिलने के बाद कुल्लू की पंचायतों ने अपने-अपने क्षेत्र में लोगों को सामाजिक समारोहों को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है तो साथ ही इन समारोहों की अनुमति लेने को भी कहा है। पंजीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया भी आरंभ कर दी गई है। लिहाजा, 15 दिसंबर तक होने वाले सभी समारोहों की तहसीलदार या उपमंडलाधिकारी से अनुमति लेने आवश्यक कर दी गई है। बता दें कि शादी समारोह व मुंडन जैसे कार्यक्रम 15 दिसंबर तक होने वाले हैं। इसके बाद काला आरंभ होने से इस कार्यक्रमों पर अपने आप ही विराम लगने वाला है, लेकिन इस दौरान तक दर्जनों समारोह जिला भर में होने वाले हैं और ऐसे में कोरोना संक्रमण के अनियंत्रित होने का खतरा लगातार बरकरार है। इसको देखते हुए अब प्रशासन और ज्यादा सतर्क हो गया है और पंचायतों ने भी लोगों को जागरूक करने का जिम्मा उठाया है। जिला कुल्लू की रूपी-पार्वती घाटी की पंचायतों ने आग्रह किया है कि 15 दिसंबर तक कोई भी समारोह शादी, जप, मुंडन संस्कार इत्यादि इस दौरान पंचायत क्षेत्र में है तो इसकी सूचना मणिकर्ण, जरी व भुंतर पुलिस में समारोह की तारीख व किसके घर में समारोह है, इसकी पूरी जानकारी के पुलिस को दें।  पंचायतों ने समारोहों में खाना बनाने वाले व परोसने वाले लोगों के कोविड-19 टेस्ट करवाने को भी कहा है।

इसके अलावा सामाजिक दूरी नियमों के बारे में भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है। घाटी की मंझली पंचायत के प्रधान दिनेश कुमार, बशौणा पंचायत की प्रधान आशा ठाकुर, नरैश पंचायत के उपप्रधान दिवान चंद, तलाड़ा पंचायत के उपप्रधान बालकृष्ण शर्मा सहित अन्य प्रतिनिधियों ने बताया कि पंचायत क्षेत्र में जिनके भी समारोह में उन्हें सूचित किया गया है और औपचारिकताओं को पूरा करने को कहा जा रहा है। जानकारी के अनुसार शादी समारोह करवाने वाले लोगों ने भी पंजीकरण की प्रक्रिया को आरंभ कर दिया है और दफ्तरों में पहुंचने लगे हैं। उधर, जिला प्रशासन ने समारोह के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया भी आंरभ की है। इसके माध्यम से भी लोग अपना पंजीकरण संबंधित तहसीलदार या उपमंडलाधिकारी के पास कर सकते हैं। प्रशासन ने इसकी वेबसाइट सोशल साइट्स के माध्यम से भी लोगों तक साझा की है। बहरहाल, कोरोना संक्रमण के एकाएक बढ़ते संकट पर लगाम लगाने के लिए प्रशासन ने जमीनी स्तर पर भी अपनी हरकत तेज कर दी है।

The post कोरोना को लेकर प्रशासन अलर्ट appeared first on Divya Himachal.