Monday, June 01, 2020 02:19 AM

कोरोना… चार जोन में बांटी स्पीति घाटी

केलांग-जिला लाहुल-स्पीति के काजा उपमंडल में कोरोना वायरस को लेकर अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी ज्ञान सागर नेगी की अध्यक्षता में विशेष बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में 14 अप्रैल के बाद स्पीति क्षेत्र में आने वाले हर व्यक्ति को होम क्वारंटाइन करने के बारे में फैसला लिया गया है।  इसके साथ ही कई अन्य फैसले भी लिए गए हैं। पूरे  स्पीति क्षेत्र को चार जोन में बांट दिया गया है। इसमें ग्यू  ताबो और डंखर पंचायत के नोडल अधिकारी एसडीएम जीवन सिंह नेगी, खुरीक, लोसर पंचायत के नोडल अधिकारी एक्सईएन मनोज कुमार, किब्बर, लांगचा, काजा, डेमुल, लालूंग पंचायत के नोडल अधिकारी डा. तेंजिन नोरबू और कुंगरी  संगम, पिन के नोडल अधिकारी   बीडीओ नियोन धैर्य शर्मा को नियुक्त किया गया है। नोडल अधिकारी होम क्वारंटाइन की निगरानी लगातार करते रहेंगे। समदो बैरियर पर स्पीति में प्रवेश करने वाले व्यक्ति की चैकिंग हो रही है । साथ ही मेडिकल टीम वहीं पर मेडिकल चैकअप भी कर रही है। सुमदो  में  कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है, जिसके प्रभारी बीडीओ काजा को बनाया गया है, जो कि स्पीति आने वाले लोगों की सूची एडीएम, बीएमओ और डीएसपी को रोजाना भेजेंगे। होम क्वारंटाइन में रह रहे हर व्यक्ति की निगरानी के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को निर्देश दिए हैं कि निगरानी टीम को हर पांच दिन बाद निरीक्षण करना होगा। निगरानी टीम अपनी रिपोर्ट प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से खंड चिकित्सा अधिकारी को सौंपेगी। खंड चिकित्सा अधिकारी हर तीसरे दिन रिपोर्ट सौंपेंगे, जबकि आपातकालीन स्थिति में खंड चिकित्सा अधिकारी दूरभाष के माध्यम से रिपोर्ट दे सकते हैं। अगर हिमाचल प्रदेश के रेड जोन से कोई व्यक्ति स्पीति में आता है, तो उसे 28 दिन का होम क्वारंटाइन अनिवार्य किया गया है, जबकि अन्य क्षेत्रों से आने पर 14 दिन का होम क्वारंटाइन अनिवार्य किया गया है। अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी ने स्पीति में सैंपल बढ़ाने का आदेश दिया है। पुलिस उपाधीक्षक काजा को निर्देश दिया गया है कि होम क्वारंटाइन में रह रहे लोगों की निगरानी की जाए। खंड चिकित्सा अधिकारी यह सुनिश्चित करेगी। होम क्वारंटाइन में रह रहे लोगों के पास स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार सभी आवश्यक वस्तुएं हों, जिनमें मास्क, सेनेटाइजर आदि शामिल है। स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों का पालन होम क्वारंटाइन में सख्ती से होना चाहिए।