Sunday, July 12, 2020 03:17 PM

कोरोना…दो महीने में 19 ने किया सुसाइड

वायरस से तो बच गए; बदहाली से तंग होकर कर की आत्महत्या,संकट के दौर में उठाया कदम

धर्मशाला –कोरोना दौर के इन दो माह में जिला कांगड़ा में 19 लोगों ने आत्महत्या करके अपनी जिदंगी खत्म कर ली है। पिछले वर्ष इसी अवधि में नौ ने अपनी जिदंगी से मुंह मोड़कर मौत को गले लगाया था, जबकि इस वैश्विक महामारी के दौर में कई जिंदगियां कोरोना से तो बच गई, लेकिन बदहाली व हालात से तंग होकर लोगों ने अधिक संख्या में अपनी आत्महत्या कर ली है। ऐसे में कोरोना संकट का यह मुश्किल दौर कई सवाल भी उठा रहा है। दो दिन पहले धर्मशाला के साथ लगते चामुंडा माता इलाके के एक हार्डवेयर डीलर ने आत्महत्या कर ली। उनके परिवार के सदस्यों ने कहा कि वह तनाव में थे, क्योंकि उनके अधिकांश कर्मी भाग गए थे और उन्हें अपने व्यवसाय को फिर से शुरू करना मुश्किल हो रहा था। कांगड़ा जिला पुलिस से मिली जानकारी व आंकड़ों के अनुसार पिछले दो महीनों के लॉकडाउन के दौरान 19 लोग आत्महत्या कर चुके हैं। जिला कांगड़ा के पीडि़त बैजनाथ, धर्मशाला, जवाली, कांगड़ा, पालमपुर, पंचरुखी, डमटाल, ज्वालामुखी, रौंखर और नगरोटा बगवां के थे। पिछले वर्ष इसी अवधि में नौ के मुकाबले 19 व्यक्तियों ने मार्च के अंत से अपनी जान समाप्त की थी। टैक्सी ड्राइवरों, विक्रेताओं और व्यापारियों की तरह स्वरोजगार से जुड़े हुए अन्य लोगों के लिए लॉकडाउन बहुत कठिन रहा है। इसी का कारण रहा कि कांगड़ा जिला में पिछले दो महीनों में आत्महत्या की दर दोगुनी से अधिक हो गई है। पिछले वर्ष की इसी अवधि 25 मार्च से अब तक के दौरान आत्महत्या करने वालों की संख्या नौ थी। सूत्रों ने यहां कहा कि जिला में आत्महत्याओं की संख्या संभवतः अधिक हो सकती है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि जिन लोगों ने आत्महत्या की है, उनमें से ज्यादातर छोटे व्यापारी थे या अवसाद से पीडि़त लोग थे। टैक्सी ड्राइवरों, विक्रेताओं और छोटे व्यापारियों के लॉकडाउन विशेष रूप से कठिन रहा है। दैनिक आय पर निर्भर रहने वाले लोगों को पिछले दो महीनों के दौरान गंभीर वित्तीय तनाव का सामना करना पड़ा है। उधर, एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन का कहना है कि कोरोना से किसी भी प्रकार से घबराने की आवश्यकता नहीं है।

The post कोरोना…दो महीने में 19 ने किया सुसाइड appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.