Monday, June 01, 2020 02:07 AM

कोरोना… पंचायत ने लगाए बैरियर

अब कमरूनाग जाने वाली गाड़ी को लेनी होगी परमिशन

गोहर-कोरोना महामारी को लेकर इस बार श्रद्धालु एवं पर्यटक मंडी जनपद के बड़ादेव कमरूनाग की ऐतिहासिक झील व यहां की सुंदरवादियों को नहीं निहार पाएंगे। ग्राम पंचायत शाला व देवता कमेटी ने स्थानीय लोगों की मांग के अनुसार श्रीदेव कमरूनाग को जाने वाली सड़कें बंद कर दी हैं। लोगों का कहना है कि यहां प्रतिदिन एक दर्जन से अधिक गाडि़यां कमरूनाग मंदिर की ओर जा रही हैं, जिससे यहां के लोगों में कोरोना वायरस फैलने की आशंका बनी हुई है। लोगों की इस मांग को लेकर पंचायत ने जवाल गांव में एक बैरियर स्थापित कर दिया है। लिहाजा अब यहां से गुजरने वाले हर छोटे व बड़े वाहन को पंचायत की अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया है। इतना ही नहीं अब यहां के लोग हर वाहन पर भी कड़ी नजर रखेंगे, ताकि किसी वाहन में कोई नशीली वस्तु तो नहीं ले जाई जा रही है। उधर, श्रीदेव कमरूनाग के कटवाल भीष्म ठाकुर ने लोगों से अपील की है कि वे फिलहाल मंदिर की ओर अपना रुख न करें। उन्होंने कहा कि सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर प्रदेश के तमाम मंदिरों के कपाट बंद रखने का निर्णय लिया है। उसी फरमान की अनुपालना करते हुए कमेटी ने भी बड़ा देव कमरूनाग के सभी कपाट बंद कर दिए हैं।