Wednesday, September 30, 2020 02:40 PM

कोरोना…बाजारों में रौनक, पर व्यापार  मंदा

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन से बाजारों में दुकानदारों का धंधा मंदा पड़ गया है। दुकानों को खोलने के इजाजत मिलने के बाद भी बाजार सुना पड़ा है। बसें न चलने के कारण बाजारों में खरीददार कम की पहुंच रहे हैं। लिहाजा दुकानदारों का काम 20 प्रतिशत ही सिमट तक रह गया है। दुकानदार हालत सामान्य होने तथा उनका कामकाज दोबारा पहले की तरह चलने की उम्मीद से आश लगाए बैठे हैं। ग्राहक जरूरी वस्तुओं के अलावा अन्य कोई भी सामान नहीं खरीद रहे हैं। वहीं, जब दिव्य हिमाचल के समक्ष दुकानदारों ने कुछ यू रखी अपनी राय।

दिव्य हिमाचल ब्यूरो- चंबा

स्कूल में छुट्टियां… धंधा मंदा

बुक स्टोर संचालक किशोर शर्मा का कहना है कि पिछले दो माह से किताबों की सप्लाई नहीं आ रही है। इसके अलावा स्कूल व कालेजों में छुट्टियां होने के चलते काम नहीं चल पा रहा है।

पिछला स्टाक तक क्लीयर नहीं हुआ

रेडीमेड स्टोर के मालिक सतपाल सिंह का कहना है कि समारोहों के आयोजन पर रोक होने के चलते कामकाज कुछ खास नहीं है। उन्होंने बताया कि अभी पिछला स्टाक क्लीयर नहीं हुआ है।

धंधा ठीक होने में लगेगा टाइम

मनियारी स्टोर के संचालक राकेश महाजन का कहना है कि कामधंधा कुछ खास नहीं है। रोजमर्रा की जरूरत के सामान की ही डिमांड है। वहीं, धंधा लंबे वक्त तक सही नहीं हो पाएगा।

दुकान में कर रहे टाइम पास

क्लाथ हाउस के संचालक अशोक महाजन का कहना है कि दुकान पर टाइम पास वाले हालात है। परिवहन सेवा न होने से कम संख्या में लोग बाजार पहुंच पा रहे हैं। काम धंधा नार्मल ही चल रहा है।

समारोह में रोक होने से नहीं आ रहे ग्राहक

सर्राफा कारोबारी भुवन पठानियाका कहना है कि लॉकडाउन खुलने के बाद भी कामकाज मंदा चला हुआ है। उन्होंने बताया कि सोना- चांदी के भाव आसमान छूने के चलते और सामाजिक समारोह पर रोक होने के चलते लोग दुकान पर नहीं आ रहे हैं। ऐसे में डिमांड का सवाल नहीं उठता।

The post कोरोना… बाजारों में रौनक, पर व्यापार  मंदा appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.