Monday, April 06, 2020 06:32 PM

कोरोना…लॉकडाउन फिर भी स्वारघाट जाम

स्वारघाट-कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए हिमाचल सरकार ने 31 मार्च मध्य रात्रि तक प्रदेश में सभी प्रकार के पब्लिक ट्रांसपोर्ट वाहनों के चलने पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है। आदेशों के तहत 31 मार्च तक प्रदेश के अंदर और बाहर न तो एचआरटीसी की बसें चलेंगी और न ही निजी बसों का परिचालन होगा वहीं टैक्सी, कैब, ऑटो रिक्शा भी नहीं चलेंगे। केवल अस्पताल और अति आवश्यक सेवाओं के लिए ही निजी वाहनों की आवाजाही की अनुमति रहेगी। सरकार के उपरोक्त आदेशों के बावजूद सोमवार को स्वारघाट में पिंजौर-नालागढ़, चंडीगढ़-मनाली हाई-वे पर सुबह से ही जाम की स्थिति बन गई। एकाएक स्वारघाट पहुंचे सैकड़ों ट्रकों, टैक्सियों, निजी वाहनों ने स्वारघाट को जाम कर दिया। जाम इतना ज्यादा था कि इसे खोलने के लिए पुलिस को करीब दो घंटे की मशक्कत करनी पड़ी। वहीं, दूसरी ओर स्वारघाट में अप्पर और लोअर बाजार आधे से ज्यादा बंद रहा। वहीं सुबह दस बजे के बाद एसपी बिलासपुर दिवाकर शर्मा ने भी स्वारघाट और कैंचीमोड़ चैक पोस्टों का निरीक्षण किया और यहां पुलिस द्वारा रोके गये बाहरी राज्यों की टैक्सियों में आए हिमाचल के लोगों को आईडी कार्ड, आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज और मेडिकल जांच के बाद आगे जाने दिया जबकि टैक्सियों को वापिस भेज दिया। मौके पर पहुंचे एसपी दिवाकर शर्मा ने स्वारघाट में पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बता दें कि स्वारघाट चौक पर पुलिस टीम तैनात है और पुलिस जवान मुस्तैदी से ड्यूटी कर रहे हैं वहीं स्वास्थ्य विभाग की तरफ से आपातकालीन सेवा 108 के कर्मचारी भी यहां दिन-रात अपनी सेवाएं दे रहे हैं। वहीं, सोमवार दोपहर बाद हिमाचल में लॉकडाउन होते ही सड़के सुनसान हो गई।