Tuesday, March 31, 2020 07:01 PM

कोरोना वायरस से डरें नहीं

रिकांगपिओ-पूह-सांगला में स्वास्थ्य विभाग ने जागरूक किए लोग

रिकांगपिओ -किन्नौर जिला के रिकांगपिओ, पूह सांगला तथा भावानगर में कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा आज चिकित्सकों तथा पैरामेडिकल स्टाफ के लिए एक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। यह जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी किन्नौर डा. पदम नेगी ने बताया कि जिला के भावानगर में डा. कवि राज नेगीए पूह में डा. चंद्र वीर तथा सांगला में डा. एसएस नेगी ने कोरोना वायरस के बचाव के बारे में चिकित्सकों व पैरामेडिकल स्टाफ  को बताया। डा. पदम नेगी ने बताया कि लोगों को जागरूक करने के लिए चिकित्सा विभाग द्वारा पेंफलेट भी छापवाएं गए है जिसे घर-घर बांटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से घबराएं नहीं। उन्होंने कहा कि चिकित्सा विभाग द्वारा राष्ट्रीय तथा प्रदेश स्तर पर परामर्श जारी किया गया है जिसके तहत 15 जनवरी 2020 से कोरोना वायरस से प्रभावित चीन व अन्य देशों से आने वाले यात्रियों के संपर्क में आने से इस रोग की संभावना हो सकती है। उन्होंने कहा कि इन देशो से आने वाले यात्रियों की जानकारी हवाई अड्डों से ही प्रदेश के स्वास्थ्य विभागो को प्रदान की जा रही है। उन्होने कहा कि जिले में भी तक कोरोना वायरस से प्रभावित यात्री नहीं आया है। उन्होने कहा कि कोरोना वायरस के लक्षण जैसे खांसी, बुखार व सांस लेने में तकलीफ है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए साबुन व सेनेटीजर से हाथ साफ करे। खासते व छीकते समय टीशु पेपर या रूमाल से नाक व मुंह को ढाके, ठंड व फ्लू जैसे लक्षण वाले किसी भी व्यक्ति के निकट संपर्क से बचे।  उन्होंने कहा कि मांस व अंडे को अच्छी तरह पका कर खाएं। उन्होने आग्रह किया कि चीन व अन्य प्रभावित क्षेत्रो से आए यात्री अपने आगमन की सूचना 104 हैल्प लाईन पर तुरंत दे। जागरूकता शिविर में चिकित्सकोए हैल्थ वर्कर, सुपर वाईजर, हैल्थ एजुकेटर व स्टाफ  नर्सो ने भाग लिया।