क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम में हिमाचल देश में सर्वश्रेष्ठ

 देश के टॉप-10 जिलों में प्रदेश के तीन जिला शामिल

 हमीरपुर को दूसरा स्थान, सिरमौर चौथे, ऊना दसवें नंबर पर

 एस्पिरेशनल जिला की श्रेणी में चंबा देशभर में चौथे स्थान पर

शिमला – देश भर में क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम को सफलतापूर्वक चलाने में हिमाचल देशभर में उत्कृष्ट राज्यों में शुमार हुआ है। गुजरात और आंध्र प्रदेश  के साथ हिमाचल उत्कृष्ट राज्यों की श्रेणी में शामिल है। क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम को लेकर देश के जिलों के प्रदर्शन की  बात की जाए तो इसमें हिमाचल के तीन जिला टॉप टेन में शामिल हैं। प्रदेश का हमीरपुर जिला प्रदेश में नंबर वन और पूरे देश में दूसरे स्थान पर आंका गया है। इसके अलावा सिरमौर चौथे तथा ऊना जिला दसवें स्थान पर आंका गया है। प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने यह जानकारी दी। उन्होंने रविवार को प्रदेश के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों एवं जिला क्षय रोग कार्यक्रम अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग में यह खुलासा किया। उन्होंने सभी को क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम प्रभावी रूप से चलाने के लिए  मुबारकबाद दी। उन्होंने बताया कि जिला चंबा को एस्पिरेशनल जिला की श्रेणी में देशभर में चौथे स्थान पर आंका गया है, जिसके लिए भी उन्होंने बधाई दी और भविष्य के लिए अच्छा प्रदर्शन करने को प्रोत्साहित किया। समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने भारत  सरकार द्वारा निर्धारित नौ मापदंडों पर प्रदेश के कार्य के बारे में जानकारी सांझा की। उन्होंने इस बात पर खुशी जताई कि प्रदेश में नौ में से छह मापदंडों पर देशभर में सर्वश्रेष्ठ कार्य किया है। शेष तीन मापदंडों पर भी उन्होंने सभी को आने वाले समय में और अधिक अच्छा कार्य करने के लिए प्रेरित किया एवं आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। अतिरिक्त मुख्य सचिव ने बताया कि आशा कार्यकर्ता हर रविवार को अपने क्षेत्र के घर-घर में जाकर क्षय रोग के संभावित व्यक्तियों का पता लगाएंगी। प्रदेश सरकार  द्वारा निर्धारित 2021 दिसंबर तक क्षय रोग उन्मूलन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सहयोगी साबित होंगी। उन्होंने सभी से यह भी आग्रह किया कि इस कोविड-19 की महामारी के समय में भी हमें दूसरी सभी बीमारियों से प्रदेश की जनता को बचाना है।

The post क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम में हिमाचल देश में सर्वश्रेष्ठ appeared first on Himachal news - Hindi news - latest Himachal news.

Related Stories: