Tuesday, March 31, 2020 01:33 PM

खराब मौसम ने रोकी हेलिकाप्टर की उड़ान

लाहुल-स्पीति में दिनभर छाए रहे बादल, उड़ान समिति ने रद्द की दोनों उड़ानें

केलांग -जनजातीय जिला के लोगों पर खराब मौसम एक बार फिर कहर बनापाने की तैयारी में है। बुधवार को जहां लाहुल-स्पीति में रखाब मौसम के कारण हेलिकाप्टर की उड़ानें नहीं हो सकीं, वहीं भुंतर हवाई अड्डे से लाहुल व पांगी के लिए भरे जाने वाली उड़ानों को रोहतांग दर्रे के खराब मौसम ने रोक दिया। लिहाजा बादलों के बरसने से पहले ही लाहुल-स्पीति के लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बुधवार सुबह लाहुल के तांदी डाइट में जहां लोग हेलिकाप्टर का इंतजार कर रहे थे, वहीं उन्हें दोपहर बाद जैसे ही हेलिकाप्टर की उड़ान रदद होने की सूचना मिली लोग मायूस हो गए। ऐसे में लाहुल में बीना बरसे ही बादलों ने कैहर बरपाना शुरू कर दिया है।  बुधवार को दूसरी उड़ान भुंतर-अजोग-भुंतर के बीच होनी थी, लेकिन इसे भी खराब मौसम के कारण रद्द करना पड़ा। उड़ान समिति प्रभारी अशोक कुमार का कहना है कि बुधवार को जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति के खराब मौसम के कारण हेलिकाप्टर की उड़ानें नहीं हो पाई। उन्होंने कहा कि जीएडी को इस संबंध में सूचना दे दी गई है। मौसम के खुलने के बाद अगामी शेड्यूल के अनुसार ही हेलिकाप्टर की उड़ानें करवाई जाएंगी। उल्लेखनीय है कि जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति के लिए बुधवार को हेलिकाप्टर के लिए दो उड़ानें होनी थीं। उड़ान समिति को जैसे ही यह सूचना मिली कि रोहतांग दर्रे पर मौसम खराब बना हुआ है और हेलिकाप्टर की उड़ान करना संभव नहीं है, तो उड़ान समिति ने हेलिकाप्टर की दोनों उड़ानों को रदद करना पड़ा। उधर, लाहुल-स्पीति के लोगों का कहना है कि बुधवार को जहां घाटी के आसमान में दिनभर बादल छाए रहे, वहीं बादलों के बरसने का डर भी लोगों के दिलों में बना रहा। लोगों का कहना है कि खराब मौसम के कारण जहां बुधवार को हेलिकाप्टर की उड़ाने जहां प्रभावित हो गई हैं, वहीं बर्फबारी का खतरा भी बना हुआ है। बहरहाल बुधवार को रोहतांग दर्रे के खराब मौसम ने लाहुल-स्पीति की उड़ानों को रदद करवा डाला।